लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

Nuh violence: नूंह हिंसा मामले में एक्शन में आई सरकार, सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करने के आरोप में 60 गिरफ्तार

हरियाणा के नूंह में हुई हिंसा में कई रोहिंग्या शरणार्थियों की गिरफ्तारी की बात सामने आई है। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने 20 से अधिक मुकदमे दर्ज कर 25 के आसपास रोहिंग्या शरणार्थियों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में अधिकारियों का कहना है कि इनके दस्तावेजों की जांच की जा रही है।

हरियाणा के नूंह में हुई हिंसा में कई रोहिंग्या शरणार्थियों की गिरफ्तारी की बात सामने आई है। सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने 20 से अधिक मुकदमे दर्ज कर 25 के आसपास रोहिंग्या शरणार्थियों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में अधिकारियों का कहना है कि इनके दस्तावेजों की जांच की जा रही है। प्राथमिक जांच में सामने आया है कि सभी को यूएन की ओर से शरणार्थी पहचान पत्र दिए गए हैं।
नूंह में रह रहे ज्यादातर रोहिंग्या म्यांमार के रखाइन प्रांत से हैं। साल-2017 में हुई हिंसा के बाद वह भारत के कई रास्तों से होते हुए नूंह आए थे। बताया जा रहा है कि नूंह में इनकी संख्या दो हजार के आसपास है। इनमें से अधिकांश के पास शरणार्थी होने का यूएन कार्ड है। पुलिस को आशंका है कि शरणार्थी बनकर रह रहे कई रोहिंग्या मुसलमानों ने भी नूंह में साम्प्रदायिक हिंसा फैलाने में संलिप्तता निभाई है। पुलिस के पास इसके इनपुट्स हैं।
हिंसा में घायल 70 लोगों की पहचान की गई थी
आपको बता दें यूपी और राजस्थान तक जुड़े नूंह हिंसा के तार, दंगाइयों ने कहां-कहां छुपाए हथियारनूंह के नए एसपी नरेंद्र बिजारणिया ने कहा कि हमें रोहिंग्या के नूंह में हुई हिंसा में शामिल होने के इनपुट मिले हैं। शरणार्थी बनकर रह रहे इन रोहिंग्याओं के दस्तावेजों की जांच की जा रही है कि किनके पास यूएन कार्ड हैं। नूंह में हिंसा को इतना ज्यादा बढ़ाने की वजह सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करना भी रहा। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस मामले में अब तक 60 के आसपास आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही सोशल मीडिया संबंधित 10 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। पुलिस के अनुसार नूंह हिंसा में घायलों की संख्या बढ़कर अब 88 तक पहुंच गई है। शुक्रवार तक हिंसा में घायल 70 लोगों की पहचान की गई थी।
उन्माद फैलाने के लिए सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट की थी
इस मामले में पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि वीडियो वायरल करने के मामले में आरोपी साजिद और उसके दो साथियों के खिलाफ शुक्रवार को थाना सारण में मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी अपने दो दोस्तों के साथ धार्मिक उन्माद फैलाने के लिए सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट की थी। इसमें वह भड़काऊ बातें कह रहा है। उसका समर्थन दो दोस्त भी कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।