विदेशी फंडिंग का ब्यौरा देने के लिए राजनीतिक दलों को 15 दिन की मोहलत

NULL

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने राजनीतिक दलों सत्तारूढ़ भाजपा, आम आदमी पार्टी और कांग्रेस से अपनी पार्टी की विदेशी फंडिंग पर उन्हें विदेश से मिलने वाले धन का ब्योरा देना है। गृह मंत्रालय ने अपनी इस वार्षिक जाँच में इन राजनीतिक दलों को जवाब देने के लिए और 15 दिनों की और मोहलत दे दी है।

गौरतलब है कि इस मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने विभिन्न राजनीतिक दलों को चिट्ठी लिखकर उनसे 16 मई तक अपनी आय के स्रोत बताने को कहा गया था। इसमें विदेशी व्यापार या निवेश से होने वाली आय का ब्योरा भी मांगा गया था। इस बारे में मंत्रालय के प्रवक्ता ने जानकारी दी कि राजनीतिक दलों को विदेशी फंडिंग पर जवाब देने के लिए और 15 दिनों की मोहलत दे दी गई है.इस अवधि में उन्हें जवाब देना होगा।

आपको जानकारी दे दें कि सरकार प्रति वर्ष विभिन्न राजनीतिक दलों से यह जानकारी एकत्रित  करती है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि कहीं फारेन कांट्रिब्यूशन रेगुलेशन एक्ट (एफसीआरए) के प्रावधानों का उल्लंघन तो नहीं हुआ। फिलहाल दलों को कारण बताओ नोटिस नहीं दिया गया है। लेकिन जरूरत पड़ी तो ऐसा निर्णय दलों से जवाब मिलने के बाद लिया जाएगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × four =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।