फारूक अब्दुल्ला ने कह- ‘जम्मू-कश्मीर में यदि स्थिति सामान्य है तो चुनाव कराए केंद्र’

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य होते हैं तो भारत सरकार को इस क्षेत्र में चुनाव कराना चाहिए।

फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि अगर जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य होते हैं तो भारत सरकार को इस क्षेत्र में चुनाव कराना चाहिए। नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने बुधवार को कहा कि अगर केंद्रशासित प्रदेश में स्थिति सामान्य होने का केंद्र का दावा सही है तो उसे जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव कराना चाहिए। श्रीनगर से लोकसभा सदस्य अब्दुल्ला ने यह आरोप भी लगाया कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल करने के मुद्दे पर लोगों के साथ नौटंकी कर रही है। उन्होंने मीडिया से कहा, “वे (केंद्र) राज्य का दर्जा बहाल नहीं करना चाहते। यह सब हमें और दुनिया को गुमराह करने की नौटंकी है। वे यह नहीं देंगे।”
1677068166 0200020
वह हर चीज के मास्टर बन गए हैं- अब्दुल्ला
अब्दुल्ला ने कहा, “सवाल उठता है कि भारत सरकार कह रही है कि जम्मू कश्मीर में स्थिति सामान्य है। सीमांकन की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। अगर चुनाव हर जगह कराए जा रहे हैं तो जम्मू-कश्मीर में क्यों नहीं?’’ पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र ने उपराज्यपाल को ‘‘हर चीज का मास्टर’’ बना दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘यहां उपराज्यपाल को क्यों लगाया गया है और वह हर चीज के मास्टर बन गए हैं।’’ संपत्ति कर लगाने जैसे नए कानून बनाने के लिए प्रशासन द्वारा नए आदेश जारी किए जाने के बारे में पूछे जाने पर अब्दुल्ला ने कहा कि इससे अब लोगों को फर्क नहीं पड़ता।
जाहिर तौर पर इसमें कुछ भी गलत नहीं है – अब्दुल्ला
उन्होंने कहा, “वे आदेश पर आदेश जारी कर रहे हैं। यह अब हमें प्रभावित नहीं करता। गुलाम लोग क्या कर सकते हैं? हम मूकदर्शक हैं।” अतिक्रमण रोधी अभियान रुकने के बारे में एक सवाल के जवाब में, अब्दुल्ला ने कहा, यह (अतिक्रमण रोधी अभियान) एक बहुत ही गलत कदम था। राष्ट्रीय राजनीति पर उन्होंने कहा कि भारत की स्थापना हिंदू राष्ट्र के रूप में नहीं हुई जैसी कि कुछ दक्षिणपंथी समूहों द्वारा मांग की जा रही है। चीन के साथ संबंधों पर अब्दुल्ला ने कहा कि जाहिर तौर पर इसमें कुछ भी गलत नहीं है क्योंकि बीजिंग के साथ व्यापार चल रहा है। उन्होंने कहा, “भारत के चीन के साथ अच्छे संबंध हैं। मैंने कोई अप्रिय बात नहीं सुनी। व्यापार आज भी सुचारू रूप से चल रहा है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − seven =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।