Search
Close this search box.

बर्फीले तूफानों के बीच भारतीय सेना का अटूट जज्बा, प्रेग्‍नेंट मह‍िला को पैदल ही पहुंचाया अस्‍पताल

जनवरी के महीने की शुरुआत के साथ ही देश के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी शुरू हो गई है। देश के उत्तर भारत इलाकों में हाड़ कंपा देने वाली ठंड हो रही है।

जनवरी के महीने की शुरुआत के साथ ही देश के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी शुरू हो गई है। देश के उत्तर भारत इलाकों में हाड़ कंपा देने वाली ठंड हो रही है। जम्मू कश्मीर में भी ऊंचाई वाले इलाकों में इस वक्त भारी बर्फबारी हो रही है। एलओसी के पास भारी बर्फबारी के बीच भारतीय सेना का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में सेना के जवान गर्भवती महिला को आपात स्थिति में बर्फबारी के बीच एंबुलेंस तक पहुंचा रही है। इस वीडियो को देखकर आप भी सेना के इन वीर सपूतों को सुपर हीरो कहेंगे। 

वीड‍ियो में सेना के जवान ज‍िस महि‍ला की मदद कर रहे हैं, वह नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास घग्गर हिल गांव में रहती है। शनिवार को जैसे ही जवानों को महिला की तबीयत खराब होने की सूचना मिली, वैसे ही वो मेडिकल टीम के साथ मह‍िला के घर पहुंच गए उनके यहां पहुंंचते ही मह‍िला की तबीयत और खराब होने लगी। इसके बाद जवानों ने उस मह‍िला को पैदल ही अस्‍पताल ले जाने का फैसला किया।
पैदल ही तय किया साढ़े छह किलोमीटर का सफर
महिला को हॉस्‍प‍िटल में पहुंचाना जरूरी था, इसल‍िए जवान पैदल ही उसे लेकर न‍िकल पड़े। इस दौरान बर्फबारी जोरदार हो रही थी। भारी बर्फबारी और खराब मौसम के बीच भारतीय जवानों का जज्‍बा एक बार भी नहीं डगमयाया और अस्‍पताल पहुंच कर ही उनके कदम ठहरे। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि बर्फबारी किस तेजी के साथ हो रही थी।
अस्‍पताल पहुंचने पर वहां मौजूद लोगों ने भारतीय जवानों के जज्‍बे की जमकर तारीफ की और उन्‍हें धन्‍यवाद किया। फिलहाल मह‍िला एकदम सकुशल है। सेना के जवानों के इस नेक काम की तारीफ करने वालों में प्रेग्‍नेंट मह‍िला के परिवार वाले भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।