Kerala में धमाका, वाहन जले; महिलाओं-बच्चों समेत 16 घायल पहुंचे अस्पताल

केरल में सोमवार को जोरदार धमाके से लोगों का दिल दहल गया। धमाका एक फैक्ट्री में हुआ। हादसे में महिलाओं और बच्चों समेत 16 लोगों के घायल होने की खबर है। वहीं एक शख्स की मौत बताई जा रही है। धमाका त्रिपुनिथुरा के रिहायशी इलाके में चल रही अवैध पटाखा फैक्ट्री के गोदाम में हुआ। विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत होने की खबर भी है। 4 गंभीर घायलों को नजदीकी अस्पताल से कलामासेरी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है।

Highlights 

  • महिलाओं-बच्चों समेत 16 घायल पहुंचे अस्पताल  
  • सिगरेट-बीड़ी से चिंगारी गिरने का शक  
  • धमाके से क्या-क्या नुकसान हुआ?  

राख का ढेर बना पटाखों का गोदाम

जिला प्रशासन के अनुसार, मृतक की पहचान तिरुवनंतपुरम के रहने वाले विष्णु के रूप में हुई है। धमाका इतना जोरदार था कि आस-पास के 25 से अधिक घर और कुछ दुकानें भरभरा कर गिर गईं। 2 वाहन भी पूरी तरह जल गए। हालांकि धमाका कैसे हुआ, अभी इस बारे में पता नहीं चल पाया है, लेकिन पूरा गोदाम राख के ढेर में तब्दील हो गया है। धमाके की खबर मिलते ही पुलिस, प्रशासन के अधिकारी और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची। बचाव अभियान चलाते हुए पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया।

सिगरेट-बीड़ी से चिंगारी गिरने का शक

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, धमाके की पुष्टि फायर ब्रिगेड ऑफिस के वरिष्ठ अधिकारी ने की। भीषण विस्फोट था, जिसके झटके कई किलोमीटर दूर अग्निशमन केंद्र तक भी महसूस किए गए। समय रहते आग पर काबू पा लिया गया, लेकिन प्रशासन-पुलिस को यह नहीं पता था कि पटाखा फैक्ट्री और गोदाम अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था। वहीं स्थानीय लोगों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, धमाका तब हुआ, जब एक वाहन से गोदाम में पटाखे उतारे जा रहे थे। ऐसे में शक जताया जा रहा है कि सिगरेट या बीड़ी की चिंगारी से शायद धमाका हुआ हो।

धमाके से क्या-क्या नुकसान हुआ?

फैक्ट्री में धमाका होने से इमारतों की छतें क्षतिग्रस्त हो गईं। कई घरों के दरवाजे और खिड़कियां उड़ गईं, जिसका मलबा पार्किंग में खड़ी कारों पर गिरा। आस-पास खड़े पेड़ों में आग लग गई। एक महिला ने कहा कि धमाके के कारण हमने सब कुछ खो दिया है। मेरा घर पूरी तरह डैमेज हो गया है। दरवाजे और खिड़कियां नहीं बचीं। हम यहां कैसे रह सकते हैं?

मंत्री ने डॉक्टरों को दिए कड़े निर्देश

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, केरल के स्वास्थ्य मंत्री वेना जॉर्ज ने हादसे में घायल हुए लोगों को स्पेशल ट्रीटमेंट देने के निर्देश दिए हैं। जिला चिकित्सा अधिकारी ने कलामस्सेरी मेडिकल कॉलेज और एर्नाकुलम जनरल अस्पताल में भर्ती लोगों की उचित देखभाल सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाए हैं। साथ ही मंत्री ने पुलिस और प्रशासन को मामले की गहन जांच करने को कहा है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘PUNJAB KESARI’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOK, INSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one + 19 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।