करौली सांप्रदायिक हिंसा : कर्फ्यू जारी, स्थिति नियंत्रण में, SIT का गठन - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

करौली सांप्रदायिक हिंसा : कर्फ्यू जारी, स्थिति नियंत्रण में, SIT का गठन

राजस्थान के करौली जिले में नवसंवत्सर के उपलक्ष्य में मुस्लिम बहुल क्षेत्र से गुजर रही मोटरसाइकिल रैली पर पथराव के बाद पैदा हुए सांप्रदायिक तनाव के चलते करौली में शनिवार को कर्फ्यू लगाया गया था, जो रविवार को भी जारी रहा।

राजस्थान के करौली जिले में नवसंवत्सर के उपलक्ष्य में मुस्लिम बहुल क्षेत्र से गुजर रही मोटरसाइकिल रैली पर पथराव के बाद पैदा हुए सांप्रदायिक तनाव के चलते करौली में शनिवार को कर्फ्यू लगाया गया था, जो रविवार को भी जारी रहा।
एक दर्जन से अधिक लोगों को किया गया गिरफ्तार
पुलिस ने बताया कि हिंसक घटना के संबंध में एक दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है और सांप्रदायिक हिसा की जांच के लिये एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है। उपद्रव की इन घटनाओं में लगभग 35 लोग घायल हो गए हैं।
हिन्दू संगठनों द्वारा नवसंवत्सर पर आयोजित एक बाइक रैली पर कुछ शरारती तत्वों ने किया पथराव  
करौली शहर में शनिवार को यह घटना तब हुई जब हिन्दू संगठनों द्वारा नवसंवत्सर पर आयोजित एक बाइक रैली मुस्लिम बहुल इलाके से गुजर रही थी, तभी कुछ शरारती तत्वों ने पथराव किया। इसके बाद हिंसा भड़क गई और उपद्रवियों ने कुछ दुकानों और मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया। इससे कई दुकानें, वाहन और अन्य सामान क्षतिग्रस्त हो गये। करौली में रविवार को भी मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहीं।
सोशल मीडिया पर हिंसा के वीडियो वायरल 
पुलिस ने बताया कि सोशल मीडिया पर हिंसा के वीडियो वायरल हुए हैं जिनकी जांच जयपुर में की जा रही है। वहीं, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने निवास पर समीक्षा बैठक की और आवश्यक दिशा निर्देश दिये। करौली के जिलाधिकारी राजेन्द्र सिंह शेखावत ने बताया स्थिति को नियंत्रण में लेने के लिये लगभग 1200 पुलिसकर्मी तैनात किये गये हैं। स्थिति पर नियंत्रण बनाये रखने के लिये 50 पुलिस उपाधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तथा पांच से अधिक भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) रैंक के अधिकारी भी मुख्यालय पर आये हुए है।
जांच के लिये एसआईटी का गठन , जांच प्रारंभ 
उन्होंने बताया कि घटना की जांच के लिये एसआईटी गठित कर जांच प्रारंभ कर दी गई है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई भी की जायेगी। शेखावत ने बताया कि दो अप्रैल की घटना से कानून एवं शांति व्यवस्था प्रभावित हुई है। इस संबंध में सुचारू रूप से कार्य के संचालन एवं सूचनाओं के समय पर आदान प्रदान के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है।
आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिये सोमवार को सुबह आठ बजे से 10 बजे तक की कर्फ्यू से छूट 
जिलाधिकारी ने बताया कि दूध, सब्जी सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिये सोमवार को सुबह आठ बजे से 10 बजे तक की कर्फ्यू से छूट प्रदान की गई है। उन्होंने बताया कि कर्फ्यू के दौरान केन्द्र, राज्य सरकार के कार्यालय, अदालतें खुली रहेंगी और राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षा जारी रहेगी। आवश्यक सेवाओं को बंद में छूट दी गई है।
लगभग 30 लोगों को हिरासत में लिया गया
पुलिस उपमहानिरीक्षक राहुल प्रकाश ने बताया कि घटना की जांच के लिये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है। अधिकारी ने बताया कि लगभग 30 लोगों को हिरासत में लिया गया है उनमें से एक दर्जन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
सांप्रदायिक हिंसा से राज्य में कांग्रेस और भाजपा के बीच वाकयुद्ध शुरू 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पुलिस महानिदेशक से बात कर वर्तमान स्थिति पर पूरी विस्तृत जानकारी ली है। सांप्रदायिक हिंसा से राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच वाकयुद्ध शुरू हो गया है।
इसी बीच, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार को बाडमेर से जयपुर लौट आये और उन्होंने अधिकारियों के साथ एक बैठक की। गहलोत ने कहा कि प्रदेश में कहीं भी साम्प्रदायिक सौहार्द को नुकसान पहुंचाने में शामिल तत्वों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अपराधी चाहे किसी धर्म, जाति या वर्ग का हो, अपराध में उसकी संलिप्तता पाये जाने पर उसे बख्शा नहीं जाएगा।
हर थाना स्तर पर कुख्यात अपराधियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी
उन्होंने कहा कि करौली में हुई घटना की पुनरावृत्ति कहीं और नहीं हो, इसके लिए पुलिस ने चौकसी बरतते हुए शांति व्यवस्था कायम रखने की दिशा में एहतियाती कदम उठाए। हर थाना स्तर पर कुख्यात अपराधियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
गहलोत ने केन्द्र और भाजपा की नीतियों को ठहराया जिम्मेदार
उन्होंने विभिन्न समुदायों के बीच शांति का माहौल कायम करने तथा कम्यूनिटी पुलिसिंग को बढ़ावा देने के निर्देश दिए। इससे पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत ने बाडमेर में धर्म और जाति के नाम पर हो रहे तनाव के लिये केन्द्र और भाजपा की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। साथ ही, उन्होंने भाजपा और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार पर भी निशाना साधा।
प्रधानमंत्री को अपील करनी चाहिए कि जाति और धर्म के नाम पर जगह जगह धुव्रीकरण बंद हो – गहलोत
मुख्यमंत्री ने शनिवार को करौली में और रविवार को ब्यावर में हुई घटना के लिये भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। गहलोत ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री को अपील करनी चाहिए कि जाति और धर्म के नाम पर जगह जगह धुव्रीकरण बंद हो। यह उचित नहीं है। इसी कारण देश में जगह जगह तनाव हो रहा है। करौली की घटना आपके सामने है। आज ब्यावार में छोटी सी बात को लेकर झगड़ा हो गया। एक व्यक्ति की हत्या हो गई।’’
आज महंगाई, बेरोजगारी बड़ी चुनौतियां – गहलोत
उन्होंने कहा, ‘‘अब इस तरह के विवाद को भी जाति धर्म के का रंग दे दिया जाता है। झगड़ने वालों का धर्म अलग-अलग है, इसे मुद्दा बनाया जाता है। मेरा मनाना है कि जिस प्रदेश में शांति, भाईचारा, सद्भाव रहता है, वहीं विकास का माहौल बनता है। आज महंगाई, बेरोजगारी बड़ी चुनौतियां है। युवाओं में छटपटाहट है।’’
करौली में आगजनी, पत्थरबाजी की घटना के मामले की तथ्यात्मक जांच के लिये 10 सदस्यीय कमेटी का किया गठन 
वहीं, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां ने करौली में आगजनी, पत्थरबाजी की घटना के मामले की तथ्यात्मक जांच के लिये 10 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। यह कमेटी घटनास्थल पर जाकर सभी पक्षों से बात कर तथ्यात्मक जानकारी जुटाएगी और प्रदेश अध्यक्ष को तथ्यात्मक रिपोर्ट सौंपेगी।
गठित कमेटी में उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, राष्ट्रीय मंत्री अलका सिंह गुजर, प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक रामलाल शर्मा, सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, सांसद जसकौर मीणा, सांसद मनोज राजोरिया, सांसद रंजीता कोली, विधायक कन्हैया लाल चौधरी, पूर्व विधायक रामहेत यादव शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + 15 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।