पंत ने किया गेंदबाजों का अंत, अपने एक ही पारी से बना डाले कई सारे रिकार्ड्स

कल से शुरू हुए इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच में ऋषभ ने आतिशी पारी खेलते हुए 111 गेंदों में 4 छक्के और 20 चौकों की मदद से 146 रन बनाए. ऋषभ के इस शतक ने कई रिकॉर्ड को तोड़ा और कई रिकॉर्ड बनाए.

भारत के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कल के दिन जो शतक लगाया, उससे भारत, इंग्लैंड के खिलाफ एक मजबूत स्कोर खड़ा कर सका. 100 से भी कम रन पर जब भारत की आधी टीम पवेलियन लौट चुकी थी, तब ऋषभ पंत और सर जडेजा टीम के संकटमोचन बनकर उभरे और टीम को एक नई दिशा में ले गए, जहां से भारतीय टीम ने वापसी की.
1656745926 1
कल से शुरू हुए इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच में ऋषभ ने आतिशी पारी खेलते हुए 111 गेंदों में 4 छक्के और 20 चौकों की मदद से 146 रन बनाए. ऋषभ के इस शतक ने कई रिकॉर्ड को तोड़ा और कई रिकॉर्ड बनाए.
 
सबसे पहला जो रिकॉर्ड उन्होंने बनाया है वो है कि ऋषभ अब भारत के सबसे कम उम्र वाले खिलाड़ी बन चुके है जो इंटरनेशनल क्रिकेट में 100 छक्के लगाए हैं. उन्होंने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़कर यह रिकॉर्ड अपने नाम किया हैं. सचिन महज 25 वर्ष में यह कारनामा किया था, मगर ऋषभ ने मात्र 24 वर्ष,271 दिन में ही कीर्तिमान रच दिया. 
1656745950 1
इसके बाद उन्होंने अपने इस पारी के बदौलत 2000 रन भी पूरे किए. सबसे कम उम्र और साथ ही साथ सबसे कम पारियों में 2000 का आंकड़ा छुने के मामले में भी ऋषभ पहले स्थान पर पहुंच चुके हैं. ऋषभ मात्र 52 पारियों में इस मुकाम तक पहुंचे, वहीं पहले यह रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी के नाम था, जिन्होंने 60 पारियों में 2000 रन तक पहुंचे थे. 
1656745959 5
वहीं ऋषभ एजबेस्टन में सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं. पिछले 120 सालों में कभी भी ऐसा नहीं हुआ कि कोई क्रिकेटर 100 से कम गेंदों में इस मैदान पर शतक लगाया है. ऋषभ ने महज 89 गेदों में ही अपना शतक पूरा कर इस रिकॉर्ड को तोड़ दिया.
1656745968 6
89 गेंदों में शतक लगाकर पंत सबसे तेज शतक लगाने के मामले में दूसरे भारतीय बन गए हैं. जी हां, इंग्लैंड में इनसे पहले 1990 में लार्ड्स में खेले जाने वाले मैच में मो. अजहरुद्दीन ने 87 गेंदों में अपना शतक पूरा किया था.
1656745976 3
इसके अलावा ऋषभ पंत की पारी और जडेजा के योगदान के सहारे टीम इंडिया सिर्फ दूसरी बार ही बर्मिंघम में 300 से ऊपर के आंकड़ा पर पहुंचा. इससे 36 साल पहले 1986 में इसी मैदान पर भारतीय टीम ने 390 रन बनाए थे, जिसका परिणाम ड्रा रहा था. भारत फिलहाल 7 विकेट पर 338 रन बनाकर खड़ी है. तो अगर भारत 400 का आकड़ा छुता है तो बर्मिंघम में यह पहला मौका होगा, जब भारत 400 या उससे ज्यादा  का स्कोर खड़ा कर पाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 15 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।