गुजरात : RSS के सौराष्ट्र क्षेत्र की बैठक में शामिल हुए भागवत, संगठन के विस्तार पर किया मार्गदर्शन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को गुजरात के कच्छ जिले के अंजार में संगठन की एक बैठक में भाग लिया, जहां उन्होंने जमीनी स्तर पर संघ के आधार के विस्तार पर स्वयंसेवकों का मार्गदर्शन किया। संघ के पदाधिकारियों ने यह जानकारी दी।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को गुजरात के कच्छ जिले के अंजार में संगठन की एक बैठक में भाग लिया, जहां उन्होंने जमीनी स्तर पर संघ के आधार के विस्तार पर स्वयंसेवकों का मार्गदर्शन किया। संघ के पदाधिकारियों ने यह जानकारी दी।
आरएसएस के सौराष्ट्र क्षेत्र के प्रचार प्रमुख पंकज रावल ने कहा कि भागवत क्षेत्र के प्रत्येक गांव में शाखाओं की स्थापना पर ध्यान देने के साथ बैठक में कच्छ-सौराष्ट्र क्षेत्र के आरएसएस समन्वयकों को मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए अंजार की यात्रा पर हैं। यह बैठक सोमवार को संपन्न होगी।
उन्होंने कहा, ‘‘कच्छ-सौराष्ट्र क्षेत्र के प्रांत, जिला और मंडल स्तर से लगभग 350 आरएसएस समन्वयक कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं। भागवतजी शनिवार को अंजार पहुंचे। सोमवार शाम को बैठक का समापन होगा।’’
रावल ने कहा कि आरएसएस प्रमुख के दौरे का उद्देश्य स्वयंसेवकों को जमीनी स्तर पर संगठन के आधार का विस्तार करने के लिए मार्गदर्शन प्रदान करना है। यह बैठक 2025 में आरएसएस की स्थापना के 100 साल पूरे होने से पहले संगठन की विस्तार योजना का हिस्सा है।
आरएसएस ने एक विज्ञप्ति में कहा कि संगठन ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रत्येक गांव में शाखा स्थापित करने का लक्ष्य रखा है। संघ का उद्देश्य शहरों और कस्बों को भी कवर करना है। गुजरात के 18,000 गांवों में से 7,000 गांवों में प्रतिदिन आरएसएस की शाखाएं आयोजित की जाती हैं।
इस साल मार्च में, आरएसएस के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की तीन दिवसीय बैठक अहमदाबाद में आयोजित की गई थी, जिसका उद्देश्य संगठन के आधार का विस्तार करना था। इसमें भागवत और अन्य शीर्ष नेता उपस्थित हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।