परीक्षा में कश्मीर को अलग देश बताने पर नीतीश पर बीजेपी का बड़ा हमला, कहा – गजवा-ए-हिन्द का प्रश्न सेट

बिहार में सत्ता परिवर्तन के बाद से ही सरकार के सामने मुश्किलों का अंबार लग गया हैं। नीतीश सरकार अब एक नये विवाद में फंस गयी हैं। कक्षा 7 वीं की परीक्षा में कश्मीर को अलग देश के प्रश्न के रूप में पूछा गया हैं।

बिहार में सत्ता परिवर्तन के बाद से ही सरकार के सामने मुश्किलों का अंबार लग गया हैं।  नीतीश सरकार अब एक नये विवाद में फंस गयी हैं।  कक्षा 7 वीं की परीक्षा में कश्मीर को अलग देश के प्रश्न के रूप में पूछा गया हैं।  इस पर भाजपा सहित विपक्ष के अन्य नेता नीतीश कुमार व शिक्षामंत्री  पर सीधा हमला कर रहे हैं। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा की नीतीश कुमार सीमांचल के बच्चों में अलगावाद की मानसिकता का पोषण कर रहे हैं। बीजेपी ने  कहा कि नीतीश जी आपको बीजेपी या सियासी दलों से लड़ना चाहिए लेकिन देश से नहीं।    
पूर्णिया में बोले जायसवाल 
पूर्णिया में मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि नीतीश सरकार व प्रधान सचिव की सहायता गजवा -ए- हिंद का प्रश्न सेट तैयार किया जा रहा हैं। जायसवाल ने कहा कि पूर्व में ऐसा ही किया गया था तब कार्रवाई की बात की गई , लेकिन आज तक उन पर सरकार ने कोई कार्रवाई नहीं की।  यह देशद्रोही शर्जिल इमाम के एजेंडे के अनुसार पूर्वोत्तर भारत को अलग करने की लागू साजिश हैं।  
क्या पूछा गया था प्रश्न जिस मच गया बवाल 
दरअसल गत शनिवार को 7 वी परीक्षा में तीन जिलों के बच्चों से प्रश्न के रूप में पूछा गया था कि जब चीन में रहने वाले व्यक्ति को चाइनीज कहा जाता हैं , नेपाल में रहने वाले व्यक्ति को नेपाली, तो कश्मीर में रहने वाले व्यक्ति को क्या कहा जाना चाहिए। जिसको लेकर राज्य की सियासत में बवाल मच गया हैं।  बीजेपी लगातार महागठबंधन की सरकार को घेर रही हैं। बीजेपी के आला नेता भी राज्यभर में इसको लेकर प्रदर्शन करने की रणनीति बना रही हैं।
बीजेपी को मौका, नीतीश को झटका 
गठबंधन सत्ता में टूट के बाद से ही दोनों दल आपस में एक -दूसरे पर लगातार हमले कर रहे हैं , लेकिन इस प्रकरण के बाद बीजेपी जेडीयू पर भारी पड़ जायेगी । क्योंकि पूर्व में भी बीजेपी सीमाचंल में शासन व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार को कठघरे में खड़ी कर चुकी हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × five =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।