लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

पेट्रोलियम प्रदाथों की मूल्य वृद्धि कर आमजनों को लूट रही सरकार : ललन कुमार

सुल्तानगंज के कांग्रेस प्रत्याशी सह युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने संवाददाता सम्मलेन में कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों और गैस सिलेंडर के बढ़ते मूल्य से ध्यान भटकाने के लिए ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर्यावरण के नाम पर बैटरी चालित गाड़ी चलाने की बात करके किसानों,

सुल्तानगंज के कांग्रेस प्रत्याशी सह युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने संवाददाता सम्मलेन में कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों और गैस सिलेंडर के बढ़ते मूल्य से ध्यान भटकाने के लिए ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर्यावरण के नाम पर बैटरी चालित गाड़ी चलाने की बात करके किसानों, मजदूरों एंव आमजनों का ध्यान भटकाने का प्रयास कर रहे हैं मुख्यमंत्री जी यह बताएं कि वर्तमान में जो डीजल और पेट्रोल से गाड़ियां सड़कों पर चल रही है उनका क्या होगा ? 
खेतों में ट्रेक्टरों से जोताई होती है उसका क्या विकल्प है सिंचाई मे इस्तेमाल होने वाले डीजल हो या फसलों की ढ़ुलाई सब कुछ डीजल पर ही तो आश्रीत है। ऐसे मे बिहार के गरीब किसानों का बोझ कम करने का राज्य सरकार के पास क्या उपाय है?सरकारी तेल कंपनियां पिछले एक हफ्ते से लगातार पेट्रोल और डीजल के दाम में बढोतरी पर बढोतरी कर निम्न वर्ग और मध्यम वर्गीय परिवारों पर बोझ बढाए जा रही है। ईंधन की कीमतों को लेकर सरकार ने लूट मचा रखी है। सरकार द्वारा आम आदमी की खून पसीने की गाढ़ी कमाई को पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ाकर लूटा जा रहा है जबकि वास्तविक कीमतें काफी कम हैं। सरकार ने एक राष्ट्र एक टैक्स के अंतर्गत जीएसटी लाया, लेकिन अब तक पेट्रोलियम पदार्थों के ऊपर किस दबाव के तहत जीएसटी का नियमावली लागू नहीं कर सकी है । क्या यह सिर्फ पेट्रोलियम कंपनियों और कारपोरेट घरानों को फायदा पहुंचाने का जो केंद्र सरकार का अभियान है, उसका हिस्सा तो नहीं है । 
प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि अभी जो भारत में डीजल आ रहा है उसका वास्तविक मूल्य 33.46 तथा पेट्रोल का वास्तविक मूल्य 31.82 रुपये ही है, लेकिन बहुततेरी टैक्स तथा कंपनियों को नित्य प्रतिदिन फायदा के दृष्टिकोण से ही डीजल करीब 90 और पेट्रोल शतक के करीब पहुंच चुका है ।देश में पेट्रोल डीजल और गैस सिलेंडर के दामों में बेतहाशा वृद्धि हो रही है और इसको रोकने की दिशा में ना ही केंद्र सरकार चिंतित है और न ही बिहार सरकार इसको लेकर गम्भीर है। माननीय मुख्यमंत्री नितिश कुमार यदि पेट्रोल,डीजल और गैस की मुल्य वृद्धि को लेकर यदि सचमुच चिंतित हैं तो बिहार के गरीब किसानों, मजदूरों के हक में पेट्रोलियम पदार्थों पर राज्य सरकार द्वारा लगाए जाने वाले टैक्स में कमी करके आम जनता को राहत दे। इस मौके पर जेएमएम के संजय कुमार,तुषार यादव,अनामिका शर्मा, जेएमएम के मिडिया प्रभारी अमन यादव,गुफरान आलम उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।