सुशील मोदी ने 2000 रुपये के नोटों की कमी का उठाया मुद्दा, कहा- काले धन के रूप में की जा रही है जमाखोरी

भाजपा सांसद सुशील मोदी ने देश में 2000 रुपये के नोटों की कमी का मुद्दा राज्य सभा में उठाया और आरोप लगाया कि काले धन के रूप में नोटों की जमाखोरी हो रही है।

भाजपा सांसद सुशील मोदी ने देश में 2000 रुपये के नोटों की कमी का मुद्दा राज्य सभा में उठाया और आरोप लगाया कि काले धन के रूप में नोटों की जमाखोरी हो रही है। उन्होंने केंद्र से मामले को लेकर स्पष्ट जवाब देने की मांग की। सुशील मोदी ने कहा कि काले धन पर लगाम लगाने के लिए इस नोट को बंद किया जाना चाहिए।
2000 रुपए के नोट जारी करने पर रोक लगाने का निर्देश
फरवरी में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि बैंकों को 2000 रुपये के नोट जारी करने से रोकने के लिए कोई निर्देश नहीं दिया गया है। उन्होंने पीएसयू बैंकों के प्रमुखों के साथ बैठक में कहा, ‘जहां तक मुझे पता है, बैंकों को ऐसा कोई निर्देश नहीं दिया गया है (2000 रुपए के नोट जारी करने पर रोक लगाने का निर्देश)।
यह टिप्पणी 2000 रुपये के नोटों को समाप्त करने के लिए एटीएम रीकैलिब्रेशन की रिपोर्ट के बाद आई है। मुद्रा मूल्यवर्ग लीगल टेंडर बना रहेगा, लेकिन धीरे-धीरे यह सार्वजनिक प्रचलन से बाहर हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + 18 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।