महागठबंधन सरकार कुछ दिनों की मेहमान है, 2024 लोकसभा चुनाव आते-आते पूरी तरह से बिखर जायेगी : पशुपति कुमार पारस

राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री पशुपति कुमार पारस ने प्रदेश कार्यालय में मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा

पटना , (पंजाब केसरी) :  राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री पशुपति कुमार पारस ने प्रदेश कार्यालय में मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार बिहार समेत देश के सभी राज्यों में चैमुखी विकास की ओर तेजी से काम कर रही है, लोगों को यह भरोसा है कि मोदी सरकार जनहित से जुड़ी सभी समस्याओं का पुख्ता प्रबंध करेगी, उन्होंने कहा कि सरकार सबका साथ और सबका विश्वास के मूल मंत्र पर तेजी से काम कर रही है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बिहार में मेडिकल कॉलेज, शैक्षणिक संस्थान के साथ ही राष्ट्रीय उच्च मार्गो का जाल बिछाया जा रहा है, इसी तरह कई केंद्र प्रायोजित योजना चलाई जा रही हैं,उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार विकास के प्रति पूरी तरह से वचनबद्ध है। आगे पारस ने कहा कि 2024 तक देश में प्रधानमंत्री पद के लिए कोई जगह खाली नही है, देश में मैनें बहुत से प्रधानमंत्री को देखा लेकिन भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के तरह प्रधानमंत्री मैनें अभी तक नहीं देखा, देश के गरीब लोगों का वन नेशन वन कार्ड के तहत एक साल तक मुफ्त राशन तथा आयुष्मान कार्ड के तहत 5 लाख रूपये तक गरीब लोगों के लिए मुफ्त में ईलाज का मामला हो सभी में प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा चलाये जा रहे योजनाओं को देश में गरीबों, पिछड़ों एवं दलितों को लाभ मिल रहा है। आगे पारस ने पत्रकारों को कहा कि बिहार में सभी जिलों में मेडिकल काॅलेज, इंजीनियरिंग काॅलेज के साथ बिजली केन्द्र सरकार की ही देन है, इनके द्वारा दी जा रही सुविधाएं यहां के आम जनता तक पहुँच रही है। प्रदेश प्रवक्ता ललन कुमार चन्द्रवंशी ने बताया कि आगे केन्द्रीय मंत्री पारस ने कहा कि महागठबंधन सरकार कुछ दिनों की मेहमान है 2024 लोकसभा चुनाव आते-आते पूरी तरह से बिखर जायेगी। अभी तक महागठबंधन के नेताओं का एक दूसरे पर विश्वास खत्म हो चुका है जिसके कारण अभी तक महागठबंधन का तीन विकेट गिर गया और अभी तक एक भी रन नहीं बना। आगे पारस ने कहा कि महागठबंधन में प्रधानमंत्री के दो प्रबल दावेदार है, केन्द्र में विपक्ष के नेता राहुल गाँधी तथा बिहार के वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राजद नेता तेजस्वी यादव को महागठबंधन में प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवार को चुनना पड़े तो वह राहुल गाँधी या नीतीश कुमार किसको चुनेगें उस परिस्थिति में महागठबंधन पूरी तरह से टूट जायेगा। मैं पहले भी कई बार मीडिया को बता चुका हूँ कि देश में नरेन्द्र मोदी के अलावे अभी दूसरा कोई विकल्प नही है और नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में 2024 में एनडीए की सरकार केन्द्र में पूर्ण बहुमत से बनेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 + 19 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।