लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

89 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

लोकसभा चुनाव पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

नेपोटिज्म पर अभिषेक ने तोड़ी चुप्पी, कहा- पापा ने मेरे लिए नहीं, मैंने पापा के लिए फिल्म बनाई

अभिषेक बच्चन ने नेपोटिज्म के मुद्दे पर बात करते हुए अपनी राय रखी है। उन्होंने कहा कि पापा ने उनके लिए कभी किसी को फोन नहीं किया।

बॉलीवुड में नेपोटिज्म का मुद्दा काफी समय से चल रहा है। सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड के बाद से ही बी-टाउन में इस मामले पर बहस तेज हो गई है। स्टार किड्स को इस मुद्दे की वजह से कई बार ट्रोल भी किया जाता है। एक्टर अभिषेक बच्चन को भी इसका कई बार सामना कर पड़ा है। कई बार उनके पिता और दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन से उनकी तुलना की जाती है। अभिषेक बच्चन ने साल 2000 में फिल्म रिफ्यूजी से बॉलीवुड में डेब्यू किया। उनका मानना है कि सिर्फ ऑडियंस की स्वीकार करने के बाद ही लंबे वक्त तक टिक सकते हैं। 
1604646516 935816 amitabh abhishek
अभिषेक बच्चन ने नेपोटिज्म के मुद्दे पर अपनी बात रखी और कहा,” फैक्ट यह है कि अमिताभ बच्चन ने कभी किसी को फोन नहीं किया। उन्होंने कभी मेरे लिए फिल्म नहीं बनाई। इसके विपरीत, मैंने उनके लिए एक फिल्म प्रोड्यूस की, जिसका नाम ‘पा’ है। लोग समझते हैं कि यह एक बिजनेस है। अगर पहली फिल्म के में आपमें उनके कुछ नहीं दिखा या वो फिल्म हिट नहीं हुई, तो आपको अगला प्रोजेक्ट मिलना बहुत ही मुश्किल होता है या नहीं मिलता. यही इस दुनिया की सच्चाई है।”
1604646526 76847207
जूनियर बच्चन का कहना था कि ‘उन्हें पता है जब उनकी फिल्में नहीं चलती तो उन्हें पता होता है कि उन्हें किन फिल्मों से रिप्लेस कर दिया गया है, कौन सी फिल्में नहीं बनाई गईं, जो कि शुरू की गईं और बजट न होने की वजह से बंद कर दी गईं क्योंकि उन पर मेकर्स जोखिम नहीं उठा सकते थे तो आपके सामने ये है मिस्टर अमिताभ बच्चन का बेटा होने का सच।’
1604646537 amitabh bachchan abhishek bachchan paa
इंटरव्यू के दौरान अभिषेक ने अपने ड्रीम रोल के बारे में बताया कि एक्टर बनने से पहले शाहरुख ने एक बार उनसे कहा था कि ‘फेवरिट रोल वही होना चाहिए, जो प्रजेंट टाइम पर आप कर रहे हैं, क्योंकि अगर ऐसा नहीं है तो आपने इसे क्यों चुना।’ बहरहाल, अगर अभिषेक के वर्कफ्रंट की बात की जाए तो वो अनुराग बसु की फिल्म ‘लूडो’ में नजर आएंगे। इसमें वह क्रिमिनल का रोल निभा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × five =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।