Search
Close this search box.

रुबीना दिलैक को आज तक है बिग बॉस से जुडी इस बात का पछतावा, अब एक्ट्रेस ने किया खुलसा

‘बिग बॉस 14’ की विनर रुबीना दिलैक ने हाल में एक नोट जारी किया है। इस नोट में उन्होंने अफसोस जताया है। उनका ये दुख बिग बॉस 14 से उनके पति अभिनव शुक्ला को एविक्ट करने को लेकर है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने उन्हें बाहर निकलवाया वह उनसे कमजोर थे।

‘बिग बॉस 14’ की विनर रुबीना दिलैक ने हाल में एक नोट जारी किया है। इस नोट में उन्होंने अफसोस जताया है। उनका ये दुख बिग बॉस 14 से उनके पति अभिनव शुक्ला को एविक्ट करने को लेकर है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने उन्हें बाहर निकलवाया वह उनसे कमजोर थे। उन्होंने ये भी लिखा कि उस दिन विरोध के तौर पर अपने पति के साथ ही शो बाहर आ जाना चाहिए था। 
1629791943 rubina dilaik 160139522930
बता दें कि रुबीना दिलैक ने अपनी ‘बिग बॉस 14’ जर्नी के दौरान कड़ी मेहनत की और अंत में शानदार ट्रॉफी जीती। वह अपने पति अभिनव शुक्ला के साथ घर में एंटर हुई थीं। अभिनव वोटों की कम संख्या की वजह से शो से बाहर नहीं हुए थे, बल्कि घर में एंट्री करने कंटेस्टेंट्स ने उन्हें शो से बाहर होने के लिए चुना। जैस्मीन भसीन, जान कुमार शानू और विंदू दारा सिंह ने उन्हें एविक्ट होने के लिए चुना था।  

अब रुबीना ने इस पर रिएक्शन दिया है। इस नोट को ‘एक एपिफेनी थी’ टाइटल दिया है। रुबीना ने लिखा, “‘मुझसे कई बार ये पूछा गया है कि बिग बॉस के घर में की गई और नहीं की गई किस चीज को लेकर पछतावा है। उस वक्त मैं क्लियरली सोच नहीं पा रही थी। मिक्स इमोशन्स थे, इतना सबकुछ हो रहा था। अब जब मैं पीछे मुड़कर देखती हूं और जो एक चीज मुझे सबसे ज्यादा हिट करती है वो अभिनव के एलिमिनेश का विजुअल।” 

1629791957 untitled design 2020 11 18t151419.800 1
रुबीना ने आगे लिखा, “अभिनव की जर्नी शो में काफी शानदार रही लेकिन अभिनव की जर्नी उन लोगों की वजह से खत्म हो गई जो शो का हिस्सा भी नहीं थे। मैं प्रोटेस्ट भी नहीं कर पाई। मैं दर्द और पीड़ा में इतना डूबी हुई थी कि मैं ये नहीं देख पाई कि मैं क्या चाहती थी। काश मैं उसी दिन उनके साथ बाहर आ जाती जिस दिन उनका अनफेयर एलिमिनेशन(बिग बॉस द्वारा नहीं) किया गया। बल्कि घर के कुछ अन्य सदस्यों ने उन्हें एलिमिनेट किया, जोकि खुद  न तो अपने सफर के साथ न्याय कर पाए और न ही खुद के।”  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।