SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर, बैंक ने बढ़ाई ब्याज दर, लोन-EMI भी हुआ महंगा

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI ने ग्राहकों को बड़ा झटका दिया है। बैंक ने बाहरी बेंचमार्क कर्ज दर (EBLR) और रेपो से जुड़ी कर्ज दर (RLLR) में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। बैंक की अब नई EBLR दर 8.55% और RLLR दर 8.15% हो गई….

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI ने ग्राहकों को बड़ा झटका दिया है। बैंक ने बाहरी बेंचमार्क कर्ज दर (EBLR) और रेपो से जुड़ी कर्ज दर (RLLR) में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। बैंक की अब नई EBLR दर 8.55% और RLLR दर 8.15% हो गई है। ये नई दरें 1 अक्टूबर 2022 से प्रभावी है।
ईएमआई बढ़ेगी: नई बढ़ोतरी के बाद नए ग्राहकों को होम लोन के लिए ज्यादा ब्याज देना पड़ेगा तो वहीं पुराने ग्राहकों की भी ईएमआई बढ़ जाएगी। अगर किसी ग्राहक ने 20 साल की अवधि के लिए 35 लाख रुपये का होम लोन लिया है। अगर ग्राहक के होम लोन पर पुरानी ब्याज दर 8.05 प्रतिशत थी, तो अब यह वृद्धि के बाद 8.55 प्रतिशत वसूल की जाएगी। यह लोन 20 साल की अवधि के लिए लिया गया है तो प्रति माह ईएमआई में 1,101 रुपये का इजाफा हो सकता है।
प्रिंसिपल अमाउंट- 35 लाख रुपये
होम लोन की अवधि- 20 साल
पुरानी ब्याज दर- 8.05%
पुरानी ईएमआई- 29,384 रुपये
नई ब्याज दर- 8.55%
नई ईएमआई- 30,485 रुपये
प्रति माह बढ़ोतरी- 1,101 रुपये
हालांकि, ईएमआई में बढ़ोतरी काफी हद तक आपके बचे हुए प्रिंसिपल अमाउंट, ऋण की अवधि पर भी निर्भर है। आपको बता दें कि आरबीआई ने रेपो रेट में 0.50 फीसद बढ़ोतरी की है। यह लगातार चौथी बार है जब आरबीआई ने रेपो रेट को बढ़ाया है।
आरबीआई के इस कदम से बैंकों के लिए कर्ज महंगा करने की राह आसान हो जाती है। यही वजह है कि ताजा बढ़ोतरी के बाद प्राइवेट और सरकारी बैंकों ने भी लोन पर ज्यादा ब्याज वसूलने शुरू कर दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।