विदेश मंत्रालय की चीन को चेतावनी – सक्रिय चीनी कंपनियां यहां के कानूनों का करें पालन

चीन की स्मार्टफोन विनिर्माता वीवो पर लगे वित्तीय अनियमितता के आरोपों के बीच विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत में कारोबार कर रही चीनी कंपनियों को यहां के कानूनों का पालन करने की जरूरत है।

चीन की स्मार्टफोन विनिर्माता वीवो पर लगे वित्तीय अनियमितता के आरोपों के बीच विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत में कारोबार कर रही चीनी कंपनियों को यहां के कानूनों का पालन करने की जरूरत है।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि भारतीय अधिकारी वीवो के मामले में स्थानीय कानून के हिसाब से कदम उठा रहे हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘यहां कारोबार करने वाली चीनी कंपनियों को देश के कानून का पालन करने की जरूरत है। मुझे लगता है कि हमारे कानूनी अधिकारी यहां के कानून के हिसाब से ही कदम उठा रहे हैं।’’
इसके एक दिन पहले चीनी दूतावास ने इस मामले में टिप्पणी करते हुए कहा था कि चीन की कंपनियों के खिलाफ लगातार जांच किए जाने से सामान्य कारोबारी गतिविधियों पर असर पड़ने के अलावा भारत में कारोबारी माहौल भी प्रभावित होगा।
इस बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘मुझे ऐसी टिप्पणियों की कोई जरूरत नहीं महसूस होती है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 + 6 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।