दिवाली के बाद धुंआ-धुंआ दिल्ली, जमकर चले पटाखों के बाद जहरीली हुई हवा

दिवाली की रात दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) बहुत खराब श्रेणी में पहुंच गया। आनंद विहार में 377 एक्यूआई दर्ज किया गया, जिसे बहुत खराब श्रेणी माना जाता है।

दिवाली की रात के बाद राष्ट्रीय राजधानी की हवा बेहद जहरीली हो गई है। दिल्ली-NCR में रातभर हुई आतिशबाजी के बाद हवा की क्वालिटी यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) बहुत खराब कैटेगरी में पहुंच गया है। पटाखे जलाने पर निकले जहरीले धुंए के बाद दिल्ली का एक्यूआई रेड जोन में चला गया।
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, दिवाली की रात दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) बहुत खराब श्रेणी में पहुंच गया। आनंद विहार में 377 एक्यूआई दर्ज किया गया, जिसे बहुत खराब श्रेणी माना जाता है। नोएडा के सेक्टर-116 में भी एक्यूआई 322 रहा। गुरुग्राम की बात करें तो रात नौ बजे यहां का AQI 346 था।
दिवाली से पहले 7 सालों में सबसे साफ़ हवा
दिवाली की रात से एक रात पहले यानी रविवार की शाम को दिल्ली का औसत AQI 259 था। ये दिवाली से पहले दिल्ली में पिछले सात सालों की सबसे शुद्ध हवा थी। ये दिवाली से पहले दिल्ली में पिछले सात सालों की सबसे शुद्ध हवा थी। 2018 में दिवाली के दिन दिल्ली का AQI 281 रिकॉर्ड किया गया था।
दिल्ली का तापमान 
दिवाली की रात नई दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 31.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 14.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। नमी का स्तर 43 फीसदी से 90 फीसदी के बीच रहा।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − 9 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।