दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कोविड योद्धा के परिजनों को एक करोड़ रुपये की धनराशि सौंपी

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को अरुण कुमार रक्षित के परिवार के लोगों को एक करोड़ रुपये की धन राशि सौंपी है। दरअसल रक्षित स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के विशेष कार्याधिकारी थे।

दिल्ली  के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को अरुण कुमार रक्षित के परिवार के लोगों को एक करोड़ रुपये की धन राशि सौंपी है। दरअसल रक्षित स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के विशेष कार्याधिकारी थे। कोरोना महामारी के दौरान दूसरी लहर में उनकी मृत्यु हो गई थी। बता दें कि कोरोनाकाल के दौरान  कोविड योद्धाओं ने देश में लोगों की मदद और सेवा करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई थी। कई कोविड योद्धाओं की इसमें जान तक चली गई थी इसलिए सरकार की और से यह धनराशि उनके परिवार वालों को सम्मनित करते हुए दी गई है।
सिसोदिया ने कोरोना के दौरान लोगों की सेवा करने वालों पर क्या बोला?
रक्षित ने कोविड के दौरान काफी कार्य किया, अस्पतालों के साथ समन्वय किया और लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं समय पर दिलाने में मदद की। सिसोदिया ने अनुग्रह राशि सौंपते हुए कहा, दिल्ली के कोविड योद्धाओं ने महामारी के दौरान नि:स्वार्थ भाव से काम किया और अपनी जान की परवाह किए बिना मानवता और समाज की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दी।
सरकार ने परिवार वालों से क्या किया वादा?
उन्होंने कहा, हम अपने कोविड योद्धाओं के बलिदान को कभी नहीं भूलेंगे। यह हमारा वादा है कि दिल्ली सरकार हमेशा हर संकट में उनके परिवारों के साथ खड़ी रहेगी। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कितनी भी राशि कोविड योद्धाओं के जीवन की हानि की भरपाई नहीं कर सकती, लेकिन ‘सम्मान राशि’ उनके परिवारों को सम्मानित जीवन जीने में मदद करेगी।
कितने परिवार वालों को यह धनराशि बांटी?
सिसोदिया ने कहा, यह योजना कोविड योद्धाओं के परिवारों को भी यह विश्वास दिलाती है कि सरकार और समाज हमेशा उनके साथ है। दिल्ली सरकार ने 73 कोविड योद्धाओं के परिवारों को एक एक करोड़ रुपये की अनुग्रह राशि देने की मंजूरी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 + 12 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।