दिल्ली IED मामला : पुलिस को मेट्रो स्टेशन की पार्किंग में मिली संदिग्ध बाइक, CCTV देखने के बाद से जारी थी तलाश

गाजीपुर फूल मंडी में मिले आईईडी (इम्प्रोवाइस्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) बम के मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक बाइक बरामद की है

देश की राजधानी दिल्ली के गाजीपुर फूल मंडी में मिले आईईडी (इम्प्रोवाइस्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) बम के मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक बाइक बरामद की है। यह बाइक दिलशाद गार्डन मेट्रो स्टेशन की पार्किंग से बरामद की गई है। इस मामले की जांच कर रही स्पेशल सेल को सीसीटीवी फुटेज में एक काले रंग की स्प्लेंडर बाइक देखी गई थी, जिसके बाद से ही बाइक की तलाश जारी थी। यह आईईडी गणतंत्र दिवस से गाजीपुर फूल मंडी में मिला था जिसके बाद एनएसजी के बम निरोधक दस्ते ने इसे निष्क्रिय कर दिया था।  
वर्ष 2020 में शास्त्री पार्क से चोरी हुई थी बाइक 
इस मामले में पुलिस के सूत्रों का कहना है कि यह बाइक साल 2020 में दिल्ली के शास्त्री पार्क से चोरी की गई थी। उन्होंने कहा कि स्पेशल सेल को जांच में सीसीटीवी में दिखा था कि इसी स्प्लेंडर बाइक पर बैठकर दो संदिग्ध गाजीपुर फूल मंडी गए थे और आरडीएक्स से बनाई गए आईईडी बम को प्लांट किया था। गाजीपुर में आईईडी प्लांट करने के बाद दोनों बाइक सवार सीमापुरी गए थे।
स्थानीय लोगों के सहयोग के बिना यह संभव नहीं : राकेश अस्थाना 
दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कहा कि शुक्रवार को बताया कि गुरुवार को सीमापुरी के एक घर से और पिछले महीने गाजीपुर बाजार से मिले आईईडी  शहर के सार्वजनिक स्थानों पर धमाके करने के इरादे से बनाए गए थे। उन्होंने कहा कि ऐसी गतिविधियां स्थानीय लोगों के सहयोग के बिना संभव नहीं हैं। 
स्थानीय पुलिस भी कर रही है जांच : अधिकारी 
अधिकारियों ने बताया कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के ओल्ड सीमापुरी इलाके में एक बैग में आईईडी मिलने के एक दिन बाद पुलिस ने वहां सुरक्षा बढ़ा दी और अतिरिक्त कर्मियों को तैनात कर दिया।  उन्होंने बताया कि 2.5 से लेकर तीन किलोग्राम वजनी आईईडी बाद में नष्ट कर दिया गया, जबकि पुलिस मकान के मालिक और एक प्रॉपर्टी डीलर से पूछताछ कर रही है। अधिकारी ने बताया कि, संदिग्ध बैग मिलने के बाद आसपास की इमारतों से करीब 400 लोगों को बाहर निकाला गया था। उन्होंने कहा कि हमने इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी है और मकान को सील कर दिया है। स्थानीय पुलिस ने गणतंत्र दिवस के मद्देनजर सुरक्षा उपायों के तौर पर इलाके में किरायेदारों का सत्यापन भी किया था। स्थानीय पुलिस भी जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।