दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत कोरोना की चपेट में आये, जांच में संक्रमण की पुष्टि

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बुधवार को कहा कि उनकी जांच में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनके संपर्क में आए लोगों को कोविड जांच करानी चाहिए और आवश्यक सावधानी बरतनी चाहिए।

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बुधवार को कहा कि उनकी जांच में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनके संपर्क में आए लोगों को कोविड जांच करानी चाहिए और आवश्यक सावधानी बरतनी चाहिए। 
मंत्री को पिछले बुधवार को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दी गई थी। गहलोत ने ट्वीट किया, “आज मेरी जांच में कोविड-19 की पुष्टि हुई है। मैं घर पर पृथक-वास में हूं। मेरे संपर्क में आने वालों को आवश्यक सावधानी बरतनी चाहिए।” 
1618394415 1
इससे पहले, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, पर्यावरण मंत्री गोपाल राय और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन करोना वायरस से संक्रमित हो कर, महामारी से उबर चुके हैं।वहीं देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना की खतरनाक रफ़्तार जारी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 13,500 से अधिक नए मामले सामने आए हैं।
दिल्ली सरकार ने शहर में कोविड-19 मामलों में तेज वृद्धि के मद्देनजर स्वास्थ्य केन्द्रों को कोरोना वायरस संक्रमित को भर्ती करते समय नियमों का कड़ाई से पालने का निर्देश दिया है और कहा है कि हल्के या बिना लक्षणों वाले रोगियों को घर में पृथकवास में रखने पर विचार किया जा सकता है। 
केजरीवाल ने यह भी कहा था कि आम आदमी पार्टी सरकार दिल्ली में लॉकडाउन नहीं लगाना चाहती, लेकिन अगर अस्पतालों में भीड़ बढ़ती है और गंभीर रूप से बीमार रोगियों के लिये अस्पतालों में बिस्तर नहीं मिलते, तो ऐसी नौबत आ सकती है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में सोमवार तक 6,940 बिस्तरों पर कोविड-19 रोगी भर्ती हैं जबकि 19,354 लोग घरों में पृथकवास में हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + seven =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।