Delhi Weather: दिल्ली में बढ़ा ठंड का सितम, 100 फ्लाइट्स लेट, 200 मीटर से भी कम हुई विजिबिलिटी

देश के कई राज्यों में ठंड बढ़ने लगी है, लेकिन दिल्ली में ठंड बढ़ने के साथ-साथ कोहरा भी लोगों के लिए आफत बन गया है। सुबह और शाम के समय आने-जाने वाले लोगों की मुश्किलें बढ़ने लगी है।

 देश के कई राज्यों में ठंड बढ़ने लगी है, लेकिन दिल्ली में ठंड बढ़ने के साथ-साथ कोहरा भी लोगों के लिए आफत बन गया है। सुबह और शाम के समय आने-जाने वाले लोगों की मुश्किलें बढ़ने लगी है। बढ़ते कोहरे का असर अब फ्लाइट्स पर भी पड़ने लगा है।बता दें कि कोहरे के कारण कम से कम 100 फ्लाइट्स में देरी हुई और दो को दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (IGIA) पर मंगलवार (27 दिसंबर) सुबह घने कोहरे के कारण डायवर्ट किया गया, जब विजिबिलिटी 200 मीटर से भी कम हो गई थी। 
विजिबिलिटी सबसे खराब थी
आपको बता दें कि विजिबिलिटी 50 मीटर होने पर भी फ्लाइट एयरपोर्ट पर उतर सकती है लेकिन जब तक रनवे के पास विजिबिलिटी 125 मीटर नहीं होती तब तक फ्लाइट को डिपार्चर की अनुमति नहीं मिलती है। इसी वजह से कई फ्लाइट्स लेट हुईं। अधिकारी ने कहा कि एयरपोर्ट पर सुबह 3.30 बजे से 7.30 बजे के बीच विजिबिलिटी सबसे खराब थी जोकि केवल 50 मीटर के दायरे में थी। 
बढ़ती ठंड बनी लोगों के लिए आफत 
दरअसल, ठंडा दिन तब होता है जब न्यूनतम तापमान औसत से 10 डिग्री सेल्सियस कम या उसके बराबर होता है और अधिकतम तापमान औसत से कम से कम 4.5 डिग्री कम होता है। गंभीर ठंड का दिन तब होता है जब अधिकतम 6.5 डिग्री या औसत से अधिक होता है और गंभीर शीत लहर तब होती है जब न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस तक गिर जाता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + 13 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।