जब तक नहीं चलता नए वेरिएंट का पता… तब तक फिक्र की बात नहीं, सत्येंद्र जैन ने XE स्वरुप पर कही ये बात

सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली सरकार कोविड की स्थिति पर नज़र रख रही है और जब तक कोरोना वायरस के नए चिंताजनक स्वरूप का पता नहीं चलता, तब तक फिक्र की कोई बात नहीं है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को कहा कि दिल्ली सरकार कोविड की स्थिति पर नज़र रख रही है और जब तक कोरोना वायरस के नए चिंताजनक स्वरूप का पता नहीं चलता, तब तक फिक्र की कोई बात नहीं है। जैन ने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए दिल्ली में दैनिक मामलों और संक्रमण दर में लगातार वृद्धि को लेकर उठ रही आशंकाओं को दूर करने की भी कोशिश की। दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से संक्रमण दर एक प्रतिशत से ऊपर बना हुआ है।
दिल्ली में 100-200 के बीच आ रहे कोरोना संक्रमण के मामले 
जैन ने कहा, “दिल्ली में दैनिक मामले 100-200 के बीच आ रहे हैं। हम अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीज़ों पर नजर रख रहे हैं, और इनकी संख्या कम हो रही है। फिलहाल संक्रमण दर पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए।” स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस के 141 नए मामले मिले और एक संक्रमित की मौत हो गई थी। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण दर 1.29 फीसदी है। मंत्री की टिप्पणी कोरोना वायरस के एक नए स्वरूप की आशंकाओं के बीच आई है।
WHO ने कोरोना के नए स्वरूप के बारे में नहीं दी जानकारी 
जैन ने कहा, “हर रोज एक नया स्वरूप उत्पन्न हो रहा है, क्योंकि वायरस अपना रूप बदल रहा है।” उन्होंने कहा, “दिल्ली सरकार कोविड-19 महामारी की स्थिति पर नजर रख रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वायरस के किसी चिंताजनक नए स्वरूप के बारे में जानकारी नहीं दी है। जबतक कोरोना वायरस के नए चिंताजनक स्वरूप का पता नहीं चलता, तब तक फिक्र की कोई बात नहीं है।”
एक्सई ओमीक्रॉन का है नया वेरिएंट  
बता दें कि स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने शनिवार को बताया था कि गुजरात के कोविड-19 एक्सई स्वरूप का जीनोमिक विश्लेषण चल रहा है और जल्द नतीजा आने की उम्मीद है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक्सई को लेकर चेतावनी जारी की है जो ओमीक्रॉन का नया स्वरूप है और यह सबसे पहले ब्रिटेन में मिला था। इस तरह के संकेत हैं कि कोविड के अबतक के किसी भी स्वरूप की तुलना में यह अधिक संक्रामक हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + eighteen =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।