Kanjhawala incident: दिल्ली के बेटी के साथ हुए कांड में पुलिस प्रशासन अलर्ट, पोस्टमॉर्टम में हुए चौंकाने वाले खुलासे

सुल्तानपुरी इलाके में 12 किलोमीटर तक कार से घसीट कर मरने वाली युवती की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि मौत सदमे और सिर, रीढ़ और हाथ-पैर में चोट लगने से हुई है।

दिल्ली में नए साल में एक बार बेटी के साथ दरिंदगी वाला मामला सामने आया है। जिसने सभी को चौंका कर दिया है। अंजलि नाम की लड़की को तकरीबन 12 किलोमीटर तक घसीटा गया जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। फिलहाल आपको बता दें कि इस कांड को अंजाम देने वाले 5 आरोपियों को दिल्ली पुलिस ने कथित तौर से गिऱफ्तार कर लिया है। जब पीड़िता लड़की का पोस्टमॉर्टम किया गया तो मालूम पड़ा कि मौत सदमें और सिर , रीढ़, हाथ-पैर में चोट लगने के कारण हुई है। 
शरीर में चोट लगने के कारण हुई थी मौत
Kanjhawala Death Case: कंझावला केस को 10 प्वाइंट में जानें घटना का पूरा  ब्योरा - News Nation
जानकारी के मुताबिक  विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) सागर प्रीत हुड्डा ने कहा, पोस्ट-मॉर्टम रिपोर्ट प्राप्त हुई है जिसमें यह कहा गया है कि मौत का अनंतिम कारण सिर, रीढ़, बाएं फीमर, दोनों निचले अंगों में लगी चोट के परिणामस्वरूप सदमे और रक्तस्राव के कारण है।
लड़की को 12km तक घसीटा गया- पुलिस प्रशासन 
विशेष पुलिस आयुक्त ने कहा, इसके अलावा, रिपोर्ट इंगित करती है कि यौन हमले की कोई चोट नहीं है। अंतिम रिपोर्ट उचित समय पर प्राप्त होगी। स्कूटी से गिरने के बाद युवती अंजलि के कपड़े कार के पहिए में फंस गए थे, जिसकी वजह से उसे सुल्तानपुरी से कंझावला तक करीब 12 किमी तक घसीटा गया। पुलिस ने घटना के समय कार में सवार पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। उनकी पहचान दीपक खन्ना, अमित खन्ना, कृष्ण, मिट्ठ और मनोज मित्तल के रूप में हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।