LG ने वीकेंड कर्फ्यू खत्म करने का प्रस्ताव ठुकराया, निजी दफ्तरों में 50% उपस्थिति पर सहमति जताई

दिल्ली के लेफ्टिनेंट जनरल अनिल बैजल ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा कोरोना वायरस बीमारी (कोविड -19) के मामलों में गिरावट के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में वीकेंड कर्फ्यू हटाने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है।

दिल्ली के लेफ्टिनेंट जनरल अनिल बैजल ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा कोरोना वायरस बीमारी (कोविड -19) के मामलों में गिरावट के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में वीकेंड कर्फ्यू हटाने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। कोविड से संबंधित उपायों में ढील देने पर केजरीवाल की सिफारिशों का जवाब देते हुए एलजी ने कहा कि वीकेंड कर्फ्यू और बाजारों को खोलने के संबंध में यथास्थिति को तब तक बनाए रखा जाना चाहिए जब तक कि वायरस की स्थिति में और सुधार न हो जाए। जानकारी के अनुसार, बैजल, हालांकि, निजी कार्यालय स्थानों को 50 प्रतिशत क्षमता पर संचालित करने की अनुमति देने के लिए सहमत हुए। 
50 फीसदी क्षमता के साथ खोलने की भी परमिशन देने की बात
सीएम अरविंद केजरीवाल की ओर से भेजे गए प्रस्ताव में कहा गया था कि दिल्ली में कोरोना के नए केसों में कमी देखी जा रही है। ऐसे में बाजारों में ऑड ईवन का सिस्टम खत्म किया जाना चाहिए और वीकेंड कर्फ्यू को भी हटा देना चाहिए। उनकी ओर से तीसरा प्रस्ताव निजी दफ्तरों को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोलने की भी परमिशन देने की बात थी। इनमें से एलजी ने दो प्रस्तावों को खारिज कर दिया, लेकिन निजी दफ्तरों में 50 फीसदी मौजदूगी की बात को मान लिया है। फिलहाल दिल्ली में लगे वीकेंड कर्फ्यू के तहत हर शुक्रवार को रात 10 बजे से कर्फ्यू लागू होता है और यह सोमवार को सुबह 5 बजे तक जारी रहता है। 
 44 लोगों की संक्रमण से मौत हुई थी
इस बीच गुरुवार को राजधानी में कोरोना संक्रमण के 12,306 नए मामले सामने आए और 43 लोगों की मौत हो गई। हालांकि संक्रमण दर घट कर 21.48 प्रतिशत हो गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आंकड़ों से यह जानकारी मिली। आंकड़ों के मुताबिक, 10 जून 2021 के बाद से एक दिन में कोविड से मौत के यह सर्वाधिक संख्या है। दिल्ली में पिछले साल 10 जून को 44 लोगों की संक्रमण से मौत हुई थी। इस साल जनवरी में संक्रमण से अब तक 396 लोगों की मौत हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।