दिल्ली में शराब की बिक्री ने तोड़ा रिकॉर्ड, करोड़ों रूपए की बोतलें खुली

दिल्ली में 24 दिसंबर से लेकर नए साल की पूर्व संध्या तक करोड़ों रूपए की शराब बिक्री हुई। आबकरी विभाग के अधिकारीयों ने ये जानकारी देते हुए कहा

दिल्ली में 24 दिसंबर से लेकर नए साल की पूर्व संध्या तक करोड़ों रूपए की शराब बिक्री हुई। आबकरी विभाग के अधिकारीयों ने ये जानकारी देते हुए कहा कि, राजधानी दिल्ली में क्रिसमस के पूर्व शाम से लेकर नए साल के पूर्व शाम तक 218 करोड़ रूपए से अधिक शराब ख़रीदी गई है।  
आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार
आबकारी विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि नए साल की पूर्व संध्या 31 दिसंबर को राष्ट्रीय राजधानी में सबसे अधिक 20.30 लाख शराब की बोतलें बिकीं, जो करीब 45.28 करोड़ रुपये की थीं। उन्होंने बताया कि 24 से 31 दिसंबर तक दिल्ली में विभिन्न प्रकार की शराब की रिकॉर्ड 1.10 करोड़ बोतलें बेची गईं, जिनमें ज्यादातर व्हिस्की थीं।आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर 2022 में दिल्ली में 13.8 लाख शराब की बोतलों की औसत बिक्री हुई थी, जो पिछले तीन वर्षों में साल के अंत में हुई सबसे अधिक बिक्री है। दिल्ली सरकार ने दिसंबर 2022 में शराब उत्पाद शुल्क और मूल्य वर्धित कर से 560 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित किया। आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर महीने में दिल्ली में 2019 में 12.55 लाख, 2020 में 12.95 लाख और 2021 में 12.52 लाख और 2022 में 13.77 लाख शराब की बोतलें बिकीं।
त्योहारों पर आबकारी विभाग को अच्छा राजस्व 
वर्तमान में, दिल्ली सरकार के चार उपक्रमों द्वारा संचालित लगभग 550 शराब की दुकानों के माध्यम से शहर में शराब बेची जा रही है। शहर में 900 से अधिक होटल, पब और रेस्तरां के ‘बार’ में भी शराब मिलती है। आबकारी विभाग ने रिकॉर्ड बिक्री के साथ 2022 का अंत किया। हालांकि गत वर्ष उसके लिए काफी चुनौतियों भरा रहा था जिसमें आबकारी नीति 2021-22 के क्रियान्वयन को लेकर केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की जांच शामिल है। इस नीति को दिल्ली सरकार वापस ले चुकी है।
त्योहारों पर अक्सर आबकारी विभाग को अच्छा राजस्व मिलता है। अक्टूबर 2022 में दिवाली के दौरान दिल्ली में 100 करोड़ रुपये से अधिक की 48 लाख से अधिक बोतलें बिकीं थीं। आबकारी विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 24 दिसंबर 2022 को शहर में 28.8 करोड़ रुपये की 14.7 लाख बोतलें बेची गईं। हाल ही में 27 दिसंबर को दिल्ली में सबसे कम शराब की बोतलें बिकीं, तब 19.3 करोड़ रुपये की 11 लाख से कम बोतलें बिकी थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।