दिवाली से पहले दिल्ली-NCR में Grap का फेज 2 शुरू, 22 अक्तूबर को हवा ज्यादा खराब होने का अनुमान

वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए दिल्ली-एनसीआर में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के दूसरे चरण को जल्द से जल्द लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। दिल्ली में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं।

वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए दिल्ली-एनसीआर में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के दूसरे चरण को जल्द से जल्द लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। दिल्ली में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं।सरकार का यह फैसला विशेषज्ञों की इस आशंका के बाद आया है कि दिवाली से पहले 22 अक्टूबर से राजधानी में प्रदूषण का स्तर ‘बेहद खराब’ श्रेणी में आ जाएगा। इस संबंध में वायु गुणवत्ता आयोग की उप-समिति ने बुधवार को आपात बैठक बुलाई थी। इसमें GRAP के दूसरे चरण को लागू करने का निर्णय लिया गया।
अक्टूबर से जनवरी तक धूल-धूसरित निर्माण कार्य न करने की सलाह 
इसके तहत सरकार ने संबंधित विभागों से दिल्ली मेट्रो, सीएनजी और इलेक्ट्रिक बसों की फ्रीक्वेंसी बढ़ाने को कहा है ताकि लोग अपने वाहनों की जगह सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल कर सकें।इसके साथ ही सरकार ने लोगों से सार्वजनिक परिवहन का अधिक से अधिक उपयोग करने की अपील की है। साथ ही अक्टूबर से जनवरी तक धूल-धूसरित निर्माण कार्य न करने की सलाह दी गई है। दिल्ली को सर्दियों में पराली से होने वाले प्रदूषण से बचाने के लिए केंद्र सक्रिय हो गया है।कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने पराली जलाने पर रोक लगाने के लिए जिलाधिकारी की जिम्मेदारी तय करने को कहा है।
ख़राब हवा में दूसरे नंबर पर पटना
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, दिल्ली को देश के 10 शहरों में सबसे खराब हवा का दर्जा दिया गया है। वेबसाइट के आंकड़ों के मुताबिक दूसरे नंबर पर बिहार की राजधानी पटना है, जहां आज सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक 150 दर्ज किया गया।केवल 45 के वायु गुणवत्ता सूचकांक के साथ प्रमुख शहरों में बैंगलोर में सबसे स्वच्छ हवा है। लगभग एक महीने पहले, दिल्ली-एनसीआर में एक समान मौसम था और एक्यूआई 50 ​​के आसपास था। लेकिन सर्दियों के मौसम के आने से पहले ही प्रदूषण हवा बढ़ने लगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।