रेनू भाटिया के बयान पर कांग्रेस नेता भड़के, कहा था – OYO रूम्स में लड़कियां आरती करने नहीं जाती

स्वयंसेवी संस्था ग्रामीण भारत के अध्यक्ष एवं हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता वेदप्रकाश विद्रोही ने हरियाणा महिला अयोग की अध्यक्ष व भाजपा रेनू भाटिया के महिलाओं, लडकियों के होटलों में जाने के संदर्भ में दिए बयान की कडी निंदा की है।

स्वयंसेवी संस्था ग्रामीण भारत के अध्यक्ष एवं हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता वेदप्रकाश विद्रोही ने हरियाणा महिला अयोग की अध्यक्ष व भाजपा  रेनू भाटिया के महिलाओं, लडकियों के होटलों में जाने के संदर्भ में दिए बयान की कडी निंदा की है। विद्रोही ने आज यहां जारी बयान में कहा कि भाजपा-संघी नेताओं व महिला नेत्रीयों से पूछा कि यदि युवा लडकियां होटलों में आरती करने की बजाय मौज-मस्ती करने के लिए जाती हैं तो क्या युवा लड़के होटलों में आरती, भक्ति करने व प्रभु का ध्यान लगाने के लिए जाते है? रेणू भाटिया ने मंगलवार कैथल में एक कालेज में दावा किया कि होटलों में जाने वाली युवा लडकियां जानती है कि वे वहां आरती करने नही जा रही, फिर कहती है कि हमारे साथ दुष्कर्म हो गया।
1681970492 bh
विद्रोही ने  रेनू महिला आयोग की अध्यक्ष को लेकर हमला बोला
 विद्रोही ने कहा कि रेणू भाटिया का आपत्तिजनक कथन बताता है कि ऐसी सोच की महिला किसी भी तरह महिला आयोग की अध्यक्ष-सदस्य बने रहने योज्ञ नहीं है। जिस महिला की ऐसी कुल्सित, छोटी सोच हो और होटल में जाने वाली युवा लड़कियों को चरित्रहीन समझती हो, ऐसी महिला क्या अन्य महिलाओं के अधिकारों की रक्षा कर पायेगी, यह आशा करना ही बेमानी है। 
1681970306 ghb
सीएम से  महिला आयोग के अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की
उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मांग की कि रेणू भाटिया को राज्य महिला आयोग के अध्यक्ष पद से तत्काल बर्खास्त किया जाये। वहीं भाजपा-संघी बताये कि क्या संघी पाठशाला में महिलाओं के प्रति ऐसी ही शिक्षा दी जाती है? महिला या लड़किया यदि होटलों में केवल मौज-मस्ती के लिए जाती है तो संघी बहन-भाई यह भी बताये कि क्या पुरूष व युवा लड़के होटलो में आरती करने व प्रभु का ध्यान करने जाते है? 
महिलाओं और लडकियों की होटलो में जाना पर  की थी आपत्तिजनक टिप्पणी
पुरूषों-लड़कों का होटलो में जाना, वहां पार्टी करना, होटलो में रूकना कैसे उचित और महिलाओं, लडकियों का होटलो में जाना, वहां पार्टी करना कैसे अनुचित? विद्रोही ने पूछा कि क्या भाजपा-संघ लिंग भेद में विश्वास करता है? जब संवैद्यानिक पदों पर बैठी महिलाएं लिंग भेद की ऐसी सोच रखती है तो वे कानून, संविधान के अनुसार महिला-पुरूष को समान समझकर न्याय कैसे दिलवाऐगी? उन्होने कहा कि रेणू भाटिया को राज्य महिला आयोग के अध्यक्ष पद से बर्खास्त करके कडा़ संदेश दिया जाये कि हरियाणा में किसी भी हाल में किसी क्षेत्र में लिंग-भेद की सोच को स्वीकार नही किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × two =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।