Search
Close this search box.

हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्टर ने कहा- किसानों के साथ खड़ी है सरकार

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रदेश सरकार किसान हितैषी है और प्राकृतिक आपदा जैसी हर परिस्थिति में प्रदेश सरकार किसानों के साथ हर संभव सहयोग के लिए खड़ी है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रदेश सरकार किसान हितैषी है और प्राकृतिक आपदा जैसी हर परिस्थिति में प्रदेश सरकार किसानों के साथ हर संभव सहयोग के लिए खड़ी है। खट्टर ने कहा कि हाल ही हुई बरसात एवं ओलावृष्टि से खराब हुई फसलों का मुआवजा विशेष गिरदावरी करवाने के बाद अगले महीने तक दिया जाएगा। मुख्यमंत्री सोमवार को भिवानी जिले के तिगड़ाना और धनाना गांव में जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान ग्रामीणों से सीधा संवाद कर रहे थे। इस मौके पर उनके साथ कृषि मंत्री जेपी दलाल के अलावा विधायक एवं अन्य लोग उपस्थित थे ।
मछली पालन के व्यवसाय का दिया सुझाव
खट्टर ने जनसंवाद कार्यक्रम में पहुंचे ग्रामीणों को कहा कि जहां खेतों में पानी का नियमित ठहराव है, वे किसान परंपरागत खेती की अपेक्षा मछली पालन व्यवसाय को अपनायें, और आर्थिक रूप से समृद्धि की दिशा में प्रभावी कदम बढाएं। उन्होंने कहा कि मछली पालन व्यवसाय में झींगा मछली का पालन करने पर प्रति एकड़ करीब दो लाख रुपये प्रति वर्ष की आय है, ऐसे में जलभराव वाले क्षेत्र का सदुपयोग करते हुए आर्थिक रूप से लाभ लिया जा सकता है।
1680522169 gfhdhdb
सीएम ने किसानों के खेतों का किया दौरा
मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश सरकार ने अपने आठ साल के कार्यकाल में अंत्योदय की भावना से जनहितकारी कार्य किये हैं। जनसंवाद कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री, कृषि मंत्री के साथ किसानों के खेत में पहुंचे। खेत में बारिश के चलते खराब हुई फसल का उन्होंने जायजा लिया और उन्हें ‘मेरी फसल, मेरा ब्यौरा’ पोर्टल पर पंजीकरण कराने के लिये कहा ताकि विशेष गिरदावरी के अनुरूप उन्हें मुआवजा मिल सके ।
1680522069 ghtjtf
किसानों के लाभ के लिए खरीद केंद्र को बढ़कर किया 6 एकड़
मुख्यमंत्री ने इस बीच, धनाना गांव जनसंवाद के दौरान खरीद केंद्र को दो एकड़ से बढ़ा कर छह एकड़ में विकसित करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने विभिन्न विभागों की योजनाओं को ऑनलाइन कर दिया है और अब नागरिक घर बैठे ही मोबाइल से आवेदन कर सकते हैं, और इसके लिए उन्हें कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + 12 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।