Search
Close this search box.

कोरोना पर बोले PM मोदी- हमारे सामने अदृश्य दुश्मन, युद्धस्तर पर हो रहा मुकाबला, लड़ेंगे और जीतेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “100 साल बाद आई इतनी भीषण महामारी कदम-कदम पर दुनिया की परीक्षा ले रही है। हमारे सामने एक अदृश्य दुश्मन है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पीएम किसान सम्मान निधि की 8 वीं किस्त जारी करते हुए 9.5 करोड़ किसानों के एकाउंट में करीब 19 हजार करोड़ रुपये की धनराशि ट्रांसफर की। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने जनता को कोरोना महामारी से आगाह करते हुए हौसला भी बंधाया। उन्होंने कहा- हम लड़ेंगे और जीतेंगे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 100 साल बाद आई इतनी भीषण महामारी कदम-कदम पर दुनिया की परीक्षा ले रही है। हमारे सामने एक अदृश्य दुश्मन है। हम अपने बहुत से करीबियों को खो चुके हैं। बीते कुछ समय से जो कष्ट देशवासियों ने सहा है,अनेको लोग जिस दर्द से गुजरे है, तकलीफ से गुजरे है वो मैं भी उतना ही महसूस कर रहा हूं।
उन्होंने कहा ” देशभर के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त टीकाकरण किया जा रहा है। इसलिए जब भी आपकी बारी आए तो टीका जरूर लगाएं। ये टीका हमें कोरोना के विरुद्ध सुरक्षा कवच देगा, गंभीर बीमारी की आशंका को कम करेगा। बचाव का एक बहुत बड़ा माध्यम है, कोरोना का टीका।” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार और सारी राज्य सरकारें मिलकर ये निरंतर प्रयास कर रही हैं कि ज्यादा से ज्यादा देशवासियों को तेजी से टीका लग पाए। देशभर में अभी तक करीब 18 करोड़ वैक्सीन डोज दी जा चुकी है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, आज के इस कार्यक्रम में मैं देश के सभी किसानों को, गांव में रहने वाले सभी लोगों को कोरोना से फिर सतर्क करना चाहता हूं। ये संक्रमण गांवों में भी तेजी से पहुंच रहा है, देश की है सरकार इससे निपटने के लिये हर संभव प्रयास कर रही है। देश के डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, सफाई कर्मी, एंबुलेंस ड्राइवर, लैब कर्मचारी, ये सभी एक-एक जीवन को बचाने के लिए 24 घंटे जुटे हैं। आज देश में जरूरी दवाओं की आपूर्ति बढ़ाने के लिए युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, देश का प्रधानसेवक होने के नाते आपकी हर भावना का मैं सहभागी हूं। कोरोना की सेकंड वेव से मुकाबले में संसाधनों से जुड़े जो भी गतिरोध थे वो तेजी से दूर किये जा रहे हैं, युद्ध स्तर पर काम करने का प्रयास हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।