अरुणाचल प्रदेश : छह जिलों में बर्फबारी, पारा शून्य के नीचे

अरुणाचल प्रदेश में बीते कुछ दिनों से 6 जिलों में भारी बर्फ़बारी के कारण पारा 0 से नीचे बताया जा रहा है। कई जगह मध्यम बर्फ़बारी भी हुई है। कड़ाके की ठंड और बर्फ़ की वज़ह लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है।

अरुणाचल प्रदेश में बीते कुछ दिनों से 6 जिलों में भारी बर्फ़बारी के कारण पारा 0 से नीचे बताया जा रहा है। कई जगह मध्यम बर्फ़बारी भी हुई है। कड़ाके की ठंड और बर्फ़ की वज़ह लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। 
सड़क एक फुट से ज्यादा बर्फ की चादर से ढका 
पश्चिम कामेंग जिले के एक अधिकारी ने बताया कि, बोमदिला-तवांग सड़क पर 13,700 फुट की ऊंचाई पर स्थित सेला पास बीते तीन दिनों से एक फुट से ज्यादा बर्फ की चादर से ढका है। बोमदिला-तवांग सड़क सीमा पर जाने वाले रक्षा कर्मियों के लिए जीवन रेखा है। अधिकारी ने बताया कि सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) अहम तवांग-बोमदिला सड़क पर किसी भी तरह के अवरूद्ध के लिए अलर्ट पर है। चीन की सीमा से सटे तवांग जिले में भी मध्यम स्तर की बर्फबारी हुई है।
उपायुक्त का बयान 
तवांग के उपायुक्त के एन दामो ने कहा, कि तवांग में बीते कुछ दिनों में हिमपात नहीं हुआ, हालांकि मौसम बहुत खराब है।उन्होंने बताया कि पहाड़ी शहर में सर्द हवाएं चल रही हैं जिससे पारा खासा लुढ़क गया है। इस बीच, मायूदिया में पिछले कुछ दिनों में भारी बर्फबारी हुई है जिसके बाद निचली दिबांग घाटी जिला प्रशासन को यात्रा परामर्श जारी करना पड़ा है। निचली दिबांग घाटी की उपायुक्त सौम्या सौरभ ने कहा कि मायूदिया पास बर्फ से ढका हुआ है और पिछले कुछ दिनों के दौरान हुई भारी बारिश और बर्फबारी के कारण सड़क बाधित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।