CM एकनाथ शिंदे ने कहा, मुंबई-नागपुर समृद्धि एक्सप्रेसवे एक निर्णायक परियोजना साबित होगी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने रविवार को कहा कि मुंबई-नागपुर समृद्धि एक्सप्रेसवे एक निर्णायक परियोजना साबित होगी, जो दोनों शहरों के बीच की दूरी घटाएगी और इससे व्यापार को बढ़ावा मिलेगा।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने रविवार को कहा कि मुंबई-नागपुर समृद्धि एक्सप्रेसवे एक निर्णायक परियोजना साबित होगी, जो दोनों शहरों के बीच की दूरी घटाएगी और इससे व्यापार को बढ़ावा मिलेगा।उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को घोषणा की थी कि इस परियोजना के नागपुर से शिरडी तक के हिस्से का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 दिसंबर को करेंगे।
इससे किसानों को भी फायदा होगा
प्रधानमंत्री के दौरे से पहले निर्माण कार्य का निरीक्षण करने के लिए शिंदे नागपुर में थे।मुख्यमंत्री ने नागपुर हवाई अड्डा पर संवाददाताओं से कहा कि 11दिसंबर को यह खुशी का क्षण होगा, क्योंकि एक्सप्रेसवे का नागपुर से शिरडी तक 520 किलोमीटर लंबा हिस्सा यातायात के लिए खोल दिया जाएगा।शिंदे ने कहा,‘‘मुंबई-नागपुर समृद्धि एक्सप्रेसवे एक निर्णायक परियोजना साबित होगी। 18 घंटे का सफर घटकर छह-सात घंटे का रह जाएगा। मुंबई और नागपुर के बीच की दूरी घट जाएगी और दोनों शहरों के बीच व्यापार बढ़ेगा। इससे किसानों को भी फायदा होगा। ’’
एक्सप्रेसवे देश में समृद्धि लाएगा
उन्होंने कहा कि इस परियोजना से कम से कम 10 जिलों को प्रत्यक्ष और 14 को अप्रत्यक्ष रूप से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेसवे देश में समृद्धि लाएगा।मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘इससे मुझे संतुष्टि मिलती है कि परियोजना का नाम हिंदू हृदय सम्राट बालासाहेब ठाकरे के नाम पर रखा गया है।’’गौरतलब है कि 49,250 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित किया जा रहा 701 किमी लंबा यह एक्सप्रेसवे 11 जिलों के 392 गांवों से होकर गुजरता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।