Search
Close this search box.

नगालैंड गोलीबारी घटना पर CM जोरमथांगा ने जताया दुख, बोले-न्याय की जीत हो, जल्द शांति बहाल हो

नगालैंड में मोन जिले में शनिवार को सुरक्षा बलों के एक उग्रवाद विरोधी अभियान के दौरान 14 नागरिकों की मौत पर मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने दुखद घटना पर नगालैंड के लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त की

नगालैंड में मोन जिले में शनिवार को सुरक्षा बलों के एक उग्रवाद विरोधी अभियान के दौरान 14 नागरिकों की मौत पर मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने दुखद घटना पर नगालैंड के लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त की, साथ ही न्याय की जीत होने और क्षेत्र में जल्द शांति बहाल होने की कामना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुख की इस घड़ी में वह नगालैंड के लोगों के साथ खड़े हैं।
जोरमथांगा ने सोमवार रात ट्वीट किया, ‘‘ नगालैंड के मोन जिले के ओटिंग में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना में मारे गए लोगों के लिए प्रार्थना करता हूं। मैं, दुख की इस घड़ी में नगालैंड के लोगों के साथ खड़ा हूं। न्याय की जीत हो और जल्द शांति बहाल हो।’’


जानिए क्या है मामला 

गोलीबारी की पहली घटना तब हुई जब शनिवार शाम कुछ कोयला खदान कर्मी एक पिकअप वैन में सवार होकर गाना गाते हुए घर लौट रहे थे। सेना के जवानों को प्रतिबंधित संगठन नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड-के (एनएससीएन-के) के युंग ओंग धड़े के उग्रवादियों की गतिविधि की सूचना मिली थी और इसी गलतफहमी में इलाके में अभियान चला रहे सैन्यकर्मियों ने वाहन पर कथित रूप से गोलीबारी की। 
पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि जब मजदूर अपने घर नहीं पहुंचे तो स्थानीय युवक और ग्रामीण उनकी तलाश में निकले तथा इन लोगों ने सेना के वाहनों को घेर लिया। इस दौरान हुई धक्का-मुक्की व झड़प में एक सैनिक मारा गया और सेना के वाहनों में आग लगा दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 4 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।