Search
Close this search box.

फडणवीस ने आदित्य ठाकरे को बताया ‘मर्सिडीज बेबी’, कहा-उन्होंने कोई संघर्ष नहीं देखा

देवेंद्र फडणवीस ने राज्य सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे को ‘मर्सिडीज बेबी’ बताया है। उन्होंने कहा कि ठाकरे ने कभी भी संघर्ष नहीं किया।

महाराष्ट्र में पूर्व सहयोगी दल बीजेपी और शिवसेना आए दिन किसी न किसी मुद्दे को लेकर आमने-सामने आ जाते हैं। ऐसे में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने राज्य सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे को ‘मर्सिडीज बेबी’ बताया है। उन्होंने कहा कि ठाकरे ने कभी भी संघर्ष नहीं किया। 
दरअसल, आदित्य ठाकरे ने कथित तौर पर देवेंद्र फडणवीस के उस दावे का मजाक उड़ाया था जिसमें उन्होंने कहा था कि जब 1992 में बाबरी मस्जिद विध्वंस हुआ था, तब मैं वहां मौजूद था। आदित्य ने कथित तौर पर कहा था कि फडणवीस ने जरूर 1857 के संग्राम में भी हिस्सा लिया होगा।

महाराष्ट्र में Loudspeaker पर सियासत जारी, संजय राउत का राज ठाकरे को तीखा जवाब

आदित्य ठाकरे के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए फडणवीस ने पत्रकारों से कहा, ‘मुंह में सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए इन ‘मर्सिडीज बेबी’ को कभी कोई संघर्ष नहीं करना पड़ा और न ही उन्होंने कोई संघर्ष देखा। इसलिए वे निश्चित रूप से कारसेवकों के संघर्ष का मजाक उड़ा सकते हैं। हमारे जैसे लाखों कारसेवकों को गर्व है कि जब बाबरी ढांचे को गिराया गया था तब हम वहां थे। मैं व्यक्तिगत रूप से वहां था और उस समय एक नगरसेवक (पार्षद) था।’
उन्होंने आगे कहा, ‘मैं हिंदू हूं, और इसलिए मैं पिछले जन्म और पुनर्जन्म में विश्वास करता हूं। अगर मेरा पिछला जन्म होता, तो मैं 1857 के युद्ध में तात्या टोपे और झांसी की रानी (रानी लक्ष्मीबाई) के साथ विद्गोह में भाग लेता। आदित्य ठाकरे का नाम लिए बिना ही बीजेपी नेता ने कहा, ‘आपने (अपने पिछले जन्म में) अंग्रेज़ों के साथ गठबंधन किया होगा, क्योंकि अब आपने उन लोगों के साथ गठबंधन किया है जो 1857 के युद्ध को स्वतंत्रता संग्राम नहीं मानते।’
फडणवीस के दावे पर NCP ने भी उठाए सवाल
इसके बाद एक अन्य कार्यक्रम में फडणवीस ने कहा कि जब राम मंदिर आंदोलन के समय मैं अयोध्या गया था तब मेरी उम्र 22 साल थी न कि 13 साल, जैसा कि कुछ लोग कह रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र में सत्ताधारी गठबंधन में हिस्सेदार एनसीपी ने भी फडणवीस के इस दावे पर सवाल उठाया।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 − 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।