Search
Close this search box.

कमल हासन बोले- सिनेमा राजनीतिक करियर में बाधा बनता है तो मैं उसे छोड़ दूंगा

कमल हासन ने रविवार को अपनी राजनीति को जनसेवा का माध्यम करार देते हुए कहा कि यदि सिनेमा उनके राजनीतिक करियर में बाधा बनता है तो वह उसे छोड़ने को तैयार हैं।

अभिनय से राजनीति के क्षेत्र में आये और मक्कल नीधि मय्यम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने रविवार को अपनी राजनीति को जनसेवा का माध्यम करार देते हुए कहा कि यदि सिनेमा उनके राजनीतिक करियर में बाधा बनता है तो वह उसे छोड़ने को तैयार हैं। 
उन्होंने कहा, ‘‘यदि वे मेरे राजनीतिक करियर में बाधा बनती हैं तो मैं अपनी मौजूदा फिल्मों को पूरा करने के बाद सिनेमा छोड़ दूंगा ।’’ उन्होंने कहा कि राजनीति में उनका आना ऐतिहासिक है क्योंकि वह उन 30 फीसद लोगों में से हैं, जो राजनीति से बिल्कुल दूर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिवंगत मुख्यमंत्री एम जी रामचंद्रन ने बतौर विधायक अपने आदर्शों का प्रचार करने एवं जनसेवा के अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए कई फिल्मों में अभिनय किया था । 
हासन ने कहा कि लेकिन यदि सिनेमा (उनके राजनीतिक करियर में) बाधा बन रहा है तो वह जनसेवा की खातिर उसे छोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि उनके कई साथी उम्मीदवार कहते हैं कि वह राजनीति से गायब हो जायेंगे और फिर से सिनेमा में आ जायेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘ हम देखते हैं कि कौन गायब होगा, यह तो जनता को तय करना है।’’ उन्होंने कहा कि उन्हें कुछ वर्गों से धमकियां मिली हैं। हालांकि उन्होंने इसे स्पष्ट करने से इनकार कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।