Jaipur : मुर्मु के स्वागत कार्यक्रम से पहले BJP के दो वरिष्ठ नेताओं में हुई गर्मागर्मी

राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू बुधवार को जयपुर पहुंचीं और राज्य के भाजपा सांसदों व विधायकों से समर्थन मांगा।

राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू बुधवार को जयपुर पहुंचीं और राज्य के भाजपा सांसदों व विधायकों से समर्थन मांगा।
हालांकि यहां एक होटल में मुर्मू के स्वागत के लिए रखे एक कार्यक्रम से पहले पार्टी के दो बड़े नेताओं, राज्यसभा सदस्य डॉ किरोड़ी लाल मीणा व उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ में कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं के प्रवेश को लेकर कथित तौर पर गर्मागर्मी हो गई। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हालांकि बाद में दोनों नेताओं ने एक दूसरे को भाई बताते हुए कहा कि उनमें कोई मतभेद या मनभेद नहीं है।
 कार्यकर्ताओं को प्रवेश नहीं दिए जाने के मुद्दे पर मीणा नाराज
उल्लेखनीय है कि राजग की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मुर्मू के स्वागत के लिए एक कार्यक्रम यहां एक होटल में रखा गया था। इसमें कार्यकर्ताओं को प्रवेश नहीं दिए जाने के मुद्दे पर मीणा नाराज दिखे। वह अपने लगभग सौ दर्शकों के साथ उस हाल में पहुंचे जहां कार्यक्रम हो रहा था। वहां मौजूद केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कार्यकर्ताओं से अभिनंदन कार्यक्रम में पार्टी के नारे न लगाने को कहा। इसी दौरान मीणा की उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड से गर्मागर्मी हो गई। मीणा चिल्लाते नजर आए तो शेखावत उन्हें एक ओर लेकर गए।
गोविंद सिंह डोटासरा ने इसे साझा करते हुए ट्वीट किया
इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने इसे साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘बने हैं सब कुर्सी के दावेदार, उछाल कीचड़ कैसी ललकार। बढ़ रही है भाजपाई तकरार, जनता से नहीं इन्हें कोई सरोकार।’’

 मीणा ने सफाई देते हुए ट्वीट किया 
हालांकि मीणा ने सफाई देते हुए ट्वीट किया, ‘‘अभिनंदन के लिए डूंगरपुर-बांसवाड़ा व अन्य सुदूर इलाकों से जयपुर आये आदिवासी कार्यकर्ताओं को कार्यक्रम में प्रवेश नहीं मिला तो मेरे जैसे भावुक व्यक्ति को गुस्सा आना स्वाभाविक था।’’

मेरे और मेरे भाई राजेंद्र राठौड़ के बीच कोई मतभेद नहीं 
उन्होंने कहा, ‘‘मैंने अपने आदिवासी भाई-बहनों की पीड़ा को राजेंद्र राठौड़ के सामने रखा। अपनों से अपनी बात नहीं कहता तो फिर किस से कहता? कोई कितनी भी कोशिश कर ले, मेरे और मेरे भाई राजेंद्र राठौड़ के बीच कोई मतभेद नहीं है, मनभेद होने का तो प्रश्न ही पैदा नहीं होता।’’
राठौड़ ने भी इसके जवाब में ट्वीट किया, ‘‘अभिनंदन कार्यक्रम के दौरान मेरा और किरोड़ी लाल मीणा के बीच बातचीत का वीडियो गलत ढंग से प्रचारित किया जा रहा है। किरोड़ी जी विगत 30 वर्षों से मेरे अभिन्न मित्र रहे हैं व भाई समान हैं। एक भाई के रूप में उन्होंने अपनी बात अधिकारपूर्वक व स्नेह के साथ कही।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 11 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।