झारखंड : रांची के होटवार जेल में DC और SSP ने मारी रेड, मनी लॉन्ड्रिंग व अवैध खनन केस के नामचीन आरोपी हैं कैद

झारखंड की राजधानी रांची स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागर (होटवार) में छापेमारी हुई है। उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा और एसएसपी किशोर कौशल के नेतृत्व में जेल में तलाशी अभियान चलाया गया।

झारखंड की राजधानी रांची स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागर (होटवार) में छापेमारी हुई है। उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा और एसएसपी किशोर कौशल के नेतृत्व में आज सुबह-सुबह जेल में तलाशी अभियान चलाया गया। छापेमारी टीम में एसडीएम, सिटी एसपी, सिटी डीएसपी और सदर डीएसपी सहित कई अन्य डीएसपी और थानेदार भी शामिल रहे।
छापेमारी किस कारण से हुई इसकी जानकारी अभी नहीं मिली है। लेकिन जिस जेल में छापेमारी हुई है उसमें मनी लॉन्ड्रिंग व अवैध खनन केस से जुड़े मुख्य आरोपी बंद है। ये जेल खेलगांव परिसर में स्थित है। झारखंड में ईडी और आयकर विभाग की कार्रवाई के बाद कई लोगों पर शिकंजा कस रहा है। 

Road Accident: तेलंगाना में सड़क दुर्घटना, कार-ट्रक की हुई भीषण टक्कर, तीन लोगों की मौत

इस छापेमारी को लेकर कई तरह की अटकलें हैं। लेकिन, असली कारण सामने नहीं आया है। जेल में निलंबित खान सचिव पूजा सिंघल, मुख्यमंत्री के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा, प्रेम प्रकाश उर्फ पीपी और बच्चू यादव इस समय इसी जेल में बंद हैं। इनमें से ज्यादातर लोग इलाजरत हैं और रिम्स के पेइंग वार्ड में अपना इलाज करा रहा है। पंकज मिश्रा कई लोगों के संपर्क में थे। 
जेल के अंदर से भी कई लोगों के बाहर से संपर्क रहने की खबरें आती रहती है। ऐसे में इस छापेमारी के पीछे कई तरह की वजह हो सकती है। ईडी ने हाल में ही 2 लोगों को हिरासत में लिया था। इनसे पूछताछ में खुलासा हुआ था कि पंकज मिश्रा न्यायिक हिरासत में रहने के बावजूद फोन के जरिए कई वरीय अधिकारियों के संपर्क में था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − eleven =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।