Jharkhand: रांची के बाहरी इलाके में सुरक्षा बलों और TSPC उग्रवादियों के बीच हुई मुठभेड़

झारखंड की राजधानी रांची के बाहरी इलाके में सुरक्षा बलों और प्रतिबंधित संगठन तृतीय-सम्मेलन प्रस्तुति समिति (टीएसपीसी) के उग्रवादियों के बीच रविवार रात भीषण मुठभेड़ हुई।

झारखंड की राजधानी रांची के बाहरी इलाके में सुरक्षा बलों और प्रतिबंधित संगठन तृतीय-सम्मेलन प्रस्तुति समिति (टीएसपीसी) के उग्रवादियों के बीच रविवार रात भीषण मुठभेड़ हुई। एक पुलिस अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।उन्होंने बताया कि रांची के बुडमू प्रखंड के सुमो जंगल में रविवार रात आठ बजे के आसपास उस समय मुठभेड़ शुरू हो गई, जब सुरक्षाबल तलाशी अभियान पर थे।अधिकारी के मुताबिक, सुरक्षाबल जैसे ही इलाके में पहुंचे टीएसपीसी के उग्रवादियों ने उन पर गोलीबारी शुरू कर दी।
वॉकी-टॉकी और 8 चार्जर बरामद किए 
रांची के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) किशोर कौशल ने बताया, “दोनों तरफ से करीब 50 राउंड गोलियां चलीं। बाद में उग्रवादी अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। हमने घटनास्थल से 777 आईएनएसयूएस गोलियां, सात वॉकी-टॉकी और आठ वॉकी-टॉकी चार्जर बरामद किए हैं।”कौशल ने बताया कि मुठभेड़ में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है और झारखंड जैगुआर की एक टीम को इलाके में तलाशी अभियान चलाने के लिए रवाना किया गया है।
पीएलएफआई का एक एरिया कमांडर मारा गया
पुलिस के मुताबिक, रांची के एसएसपी को गुप्त सूचना मिली थी कि टीएसपीसी के एरिया कमांडर विक्रम गांझू की टीम इलाके में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए वहां डेरा डाले हुए है।पुलिस ने बताया कि सूचना पर एसएसपी ने एक टीम गठित की और उसे उग्रवादियों की तलाश के लिए भेजा।इससे पहले, 23 जनवरी की रात को रांची जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) से अलग हुए प्रतिबंधित समूह पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) का एक एरिया कमांडर मारा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine − 3 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।