झारखंड : नक्सलियों ने उड़ाए दो मोबाइल टावर, माओवादी नेता की गिरफ्तारी का कर रहे हैं विरोध

झारखंड के गिरिडीह जिले में सीपीआई माओवादी नक्सलियों ने शुक्रवार की देर मधुबन और पीरटांड़ थाना क्षेत्र में दो मोबाइल टावर उड़ा दिए

झारखंड के गिरिडीह जिले में सीपीआई माओवादी नक्सलियों ने शुक्रवार की देर मधुबन और पीरटांड़ थाना क्षेत्र में दो मोबाइल टावर उड़ा दिए। दोनों जगहों पर नक्सलियों ने पर्चे भी छोड़े हैं। नक्सलियों की इस कार्रवाई से मोबाइल कंपनियों को करोड़ों के नुकसान की आशंका है। बता दें कि सीपीआई माओवादी नक्सलियों ने अपने नेता प्रशांत बोस और उनकी पत्नी की गिरफ्तारी के विरोध में झारखंड-बिहार में 21 से 26 जनवरी तक प्रतिरोध सप्ताह मनाने का एलान किया है। 
माओवादी नेता को उचित सेवाएं नहीं देने का लगाया आरोप 
नक्सलियों का कहना है कि गिरफ्तार किए गए प्रशांत बोस और उनकी पत्नी को उचित स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध नहीं कराया जा रहा हैं। वे दोनों को राजनीतिक बंदी का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं। खुफिया विभाग ने पहले ही दोनों राज्यों की पुलिस को अलर्ट किया है कि नक्सली सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचा सकते हैं और पुलिस एवं सुरक्षा बलों पर हमले की कोशिश कर सकते हैं। पुलिस के अनुसार नक्सलियों ने मधुबन थाना के जयनगर में आइडिया और खुखरा ओपी के जमुआ टांड़ में एयरटेल का टावर उड़ाया है।
पुलिस अधीक्षकों को रखा है अलर्ट पर 
इस घटना के बारे में बताया जा रहा है कि, दोनों गांवों में 50 की संख्या में हथियारबंद माओवादी पहुंचे और विस्फोटक लगाकर टावर उड़ा दिए। शनिवार की सुबह एएसपी गुलशन तिर्की और इलाके के एसडीपीओ मनोज कुमार ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल का दौरा कर मामले की जानकारी ली। इस बीच नक्सलियों के एलान को देखते हुए पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों की पुलिस अधीक्षकों को अलर्ट कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 1 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।