कर्नाटक विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की, सिद्धरमैया और शिवकुमार के नाम शामिल - Latest News In Hindi, Breaking News In Hindi, ताजा ख़बरें, Daily News In Hindi

लोकसभा चुनाव 2024

पहला चरण - 19 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

102 सीट

दूसरा चरण - 26 अप्रैल

Days
Hours
Minutes
Seconds

88 सीट

तीसरा चरण - 7 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

94 सीट

चौथा चरण - 13 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

96 सीट

पांचवां चरण - 20 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

49 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

सातवां चरण - 1 जून

Days
Hours
Minutes
Seconds

57 सीट

छठा चरण - 25 मई

Days
Hours
Minutes
Seconds

58 सीट

कर्नाटक विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की, सिद्धरमैया और शिवकुमार के नाम शामिल

कांग्रेस ने कर्नाटक में मई में संभावित विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को 124 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची जारी की, जिसमें कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष डी के शिवकुमार और विधायक दल के नेता सिद्धरमैया समेत कई प्रमुख नेताओं के नाम शामिल हैं।

कांग्रेस ने कर्नाटक में मई में संभावित विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को 124 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची जारी की, जिसमें कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष डी के शिवकुमार और विधायक दल के नेता सिद्धरमैया समेत कई प्रमुख नेताओं के नाम शामिल हैं।
कर्नाटक में कांग्रेस की जीत की स्थिति में शिवकुमार एवं सिद्धरमैया दोनों ही मुख्यमंत्री पद के दावेदार हैं।
सूची के अनुसार, शिवकुमार अपने पुराने कनकपुरा विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे और सिद्धरमैया मैसुरु जिले की अपनी पुरानी सीट वरुणा से उम्मीदवार होंगे। इस सीट का प्रतिनिधित्व इस समय उनके बेटे यतींद्र सिद्धरमैया कर रहे हैं।
हालांकि 124 उम्मीदवारों की पहली सूची में यतींद्र का नाम शामिल नहीं है।
वहीं, सिद्धरमैया ने कहा है कि वह दो सीट से चुनाव लड़ना चाहते हैं।
उन्होंने कहा, “मैंने कहा था, इसके (निर्वाचन क्षेत्र के) बारे में आलाकमान को फैसला लेना है। आलाकमान ने मुझे वरुणा से चुनाव लड़ने को कहा है। मैंने कहा है कि मैं दो निर्वाचन क्षेत्रों से चुनाव लड़ूंगा, यहां से और कोलार से। इस पर भी फैसला आलाकमान पर छोड़ दिया है।”
सिद्धरमैया ने यहां पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि उनके बेटे यतींद्र किसी भी क्षेत्र से चुनाव नहीं लड़ेंगे।
सिद्धरमैया वर्तमान में बादामी सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने पहले घोषणा की थी कि वह कोलार से चुनाव लड़ेंगे, लेकिन ऐसा बताया जा रहा है कि पार्टी नेतृत्व द्वारा वहां से लड़ने के ‘‘जोखिम’’ को लेकर सचेत किए जाने के बाद वह इस फैसले से पीछे हट गए।
मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने राज्य में कम से कम 150 सीट जीतने का लक्ष्य रखा है। पार्टी ने अभी कोलार और बादामी सीट से उम्मीदवार के नाम घोषणा नहीं की है। पार्टी के कुछ पदाधिकारियों के अनुसार सिद्धारमैया दोनों सीटों से जीत हासिल करने पर वरुणा सीट खाली करने और बाद के उपचुनाव में वहां से यतींद्र को मैदान में उतारने की योजना बना रहे हैं।
कर्नाटक में कुल 224 विधानसभा सीट हैं। निर्वाचन आयोग कुछ दिन में चुनाव कार्यक्रम घोषित कर सकता है।
मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए, शिवकुमार ने कहा, अगले तीन से चार दिनों में दूसरी सूची जारी की जाएगी। कुछ मौजूदा विधायकों के पहली सूची में जगह नहीं मिलने के सवाल पर शिवकुमार ने कहा, “उनमें से लगभग 95 प्रतिशत को टिकट मिल जाएगा, कुछ स्पष्टीकरण और बातचीत जारी है, और किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है।”
पहली सूची में अधिकतर वर्तमान विधायकों के प्रतिनिधित्व वाली सीट और वे निर्वाचन क्षेत्र शामिल हैं जिनके लिए राज्य इकाई द्वारा केवल एक नाम की सिफारिश की गई थी।
दिलचस्प बात है कि सात बार सांसद रहे और पूर्व केंद्रीय मंत्री के एच मुनियप्पा की राज्य की राजनीति में वापसी हुई है और उन्हें देवनहल्ली सीट से मैदान में उतारा गया है। उनकी बेटी एवं कोलार गोल्ड फील्ड से मौजूदा विधायक रूपकला एम को इसी सीट से पुन: उम्मीदवार बनाया गया है।
91 वर्षीय अनुभवी नेता शमनूर शिवशंकरप्पा को एक बार फिर दावणगेरे दक्षिण से टिकट मिला है और उनके बेटे एस एस मल्लिकार्जुन को दावणगेरे उत्तर से उम्मीदवार बनाया गया है।
टिकट पाने वाले पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में जी परमेश्वर (कोरातागेरे) भी शामिल हैं। इसके अलावा आर वी देशपांडे को हलियाल सीट, एच के पाटिल को गडग सीट, एम बी पाटिल (प्रचार समिति प्रमुख) को बाबलेश्वर सीट, प्रियांक खरगे (अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के बेटे) को चितपुर, के आर रमेशकुमार (पूर्व अध्यक्ष) को श्रीनिवासपुर, ईश्वर खंड्रे (कार्यकारी अध्यक्ष) को भालकी, सतीश लक्ष्मणराव जरकीहोली (कार्यकारी अध्यक्ष) को यमकानमर्दी, के जे जॉर्ज को सर्वगण नगर और दिनेश गुंडू राव को गांधी नगर से उम्मीदवार बनाया गया है।
पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष रहे आर ध्रुवनारायण के बेटे दर्शन ध्रुवनारायण को नंजनगुड से टिकट मिला है। आर ध्रुवनारायण का हाल में निधन हो गया था। वरिष्ठ नेता एच सी महादेवप्पा को टी नरसीपुर से मैदान में उतारा गया है।
जनता दल (सेक्युलर) के नेता एच डी कुमारस्वामी के बेटे निखिल कुमारस्वामी के खिलाफ रामनगर से इकबाल हुसैन एच ए को उम्मीदवार बनाया गया है।
पुट्टन्ना और यू बी बंकर को क्रमश: राजाजीनगर और हिरेकेरूर से टिकट दिया गया है। कांग्रेस ने सोराब से मधु बंगारप्पा को मैदान में उतारा है, जहां उनका मुकाबला भाजपा के मौजूदा विधायक एवं अपने भाई कुमार बंगारप्पा से होने की संभावना है।
इनके अलावा पूर्व मंत्री एम. कृष्णप्पा और उनके पुत्र प्रियकृष्ण को क्रमशः विजयनगर और गोविंदराज नगर क्षेत्रों से और पूर्व मंत्री रामलिंगा रेड्डी (कार्यकारी अध्यक्ष) और उनकी बेटी सौम्या आर को क्रमशः बीटीएम लेआउट और जयनगर सीट से उम्मीदवार बनाया गया है।
पहली सूची में आठ मुस्लिम उम्मीदवार है। इनमें यू.टी. अब्दुल खादर अली फरीद (मैंगलोर), तनवीर सैत (नरसिम्हाराजा), एन.ए. हारिस (शांति नगर), रिजवान अरशद (शिवाजीनगर), रहीम खान (बीदर), इकबाल हुसैन एच.ए. (रामनगरम), बी.जेड. जमीर अहमद खान (चमराजपेट) और कनीज फातिमा (गुलबर्गा उत्तर) शामिल हैं।
पहली सूची में छह महिलाओं ने जगह बनाई है, जिनमें कनीज फातिमा, लक्ष्मी रवींद्र हेब्बलकर (बेलगाम ग्रामीण), डॉ. अंजलि निंबालकर (खानापुर), रूपकला एम (केजीएफ), कुसुमा एच (राजाराजेश्वरनगर) और सौम्या आर (जयनगर) शामिल हैं।
दिलचस्प बात यह है कि कांग्रेस ने चन्नापटना से उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की है, जहां से पूर्व मुख्यमंत्री एवं जद (एस) नेता एच डी कुमारस्वामी चुनाव लड़ रहे हैं। इसके अलावा शिग्गावी सीट से भी कांग्रेस ने अभी उम्मीदवार तय नहीं किया है, जहां से भारतीय जनता पार्टी मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को मैदान में उतार सकती है।
पहली सूची में 30 लिंगायत, 23 अनुसूचित जाति, 22 वोक्कालिगा, 5 ब्राह्मण व अन्य शामिल हैं।
कर्नाटक में मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल मई में समाप्त होगा। उससे पहले राज्य में चुनाव होने हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।