कर्नाटक के मंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने अयोध्या की तर्ज पर राज्य में राम मंदिर निर्माण की मांग की

कर्नाटक के रामनगर जिले के प्रभारी मंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई से अयोध्या के श्रीराम मंदिर की तर्ज पर रामदेवराबेट्टा में एक मंदिर बनाने के लिए विकास समिति गठित करने का आग्रह किया है।

कर्नाटक के रामनगर जिले के प्रभारी मंत्री सी एन अश्वथ नारायण ने मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई से अयोध्या के श्रीराम मंदिर की तर्ज पर रामदेवराबेट्टा में एक मंदिर बनाने के लिए विकास समिति गठित करने का आग्रह किया है।बोम्मई और धर्मादा मंत्री शशिकला जोले को लिखे पत्र में नारायण ने मांग की है कि कर्नाटक के रामनगर जिले में रामदेवराबेट्टा को दक्षिण भारत के अयोध्या के रूप में विकसित किया जाना चाहिए। 
उन्होंने कहा कि रामदेवराबेट्टा में धर्मादा विभाग की 19 एकड़ जमीन का इस्तेमाल करके श्रीराम मंदिर का निर्माण किया जाना चाहिए।उन्होंने कहा, ‘‘क्षेत्र के लोगों में दृढ़ विश्वास है कि सुग्रीव ने रामदेवराबेट्टा को स्थापित किया था। जिले के लोगों की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए रामदेवराबेट्टा को एक विरासत और आकर्षक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाना चाहिए। इससे हम अपनी संस्कृति को प्रदर्शित कर सकेंगे और पर्यटन को भी प्रोत्साहन मिलेगा।’’
उच्च शिक्षा मंत्री नारायण ने कहा, ‘‘लोगों का यह भी मानना है कि श्रीराम ने अपने वनवास के दिनों में सीता और लक्ष्मण के साथ वन में एक वर्ष बिताया था। उनका यह भी मानना है कि सात महान संतों ने यहां अपनी तपस्या की थी। इसके अलावा, यह देश में एक प्रमुख गिद्ध संरक्षण क्षेत्र है।’’ उन्होंने पत्र में कहा कि रामदेवराबेट्टा और रामायण के बीच पारंपरिक संबंध त्रेतायुग से है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।