महाराष्ट्र में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बोली जाएगी हनुमान चालीसा : देवेंद्र फडणवीस

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार विपक्ष को कुचलना और मारना चाहती है। क्या महाराष्ट्र में नहीं तो पाकिस्तान में बोली जाएगी हनुमान चालीसा?

महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा विवाद को लेकर मचे बवाल के बीच बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि यदि हनुमान चालीसा पढ़ना देशद्रोह तो फिर हम सभी पढ़ेंगे और हर दिन इसका जाप करेंगे। दरअसल, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के घर ‘मातोश्री’ के बाहर हनुमान चालीसा पढ़ने का ऐलान करने के बाद निर्दलीय विधायक नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा को जेल भेज दिया गया है।
राणा दंपति पर मुंबई पुलिस ने राजद्रोह का केस दर्ज किया है। इसपर प्रतिक्रिया देते हुए देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार विपक्ष को कुचलना और मारना चाहती है। क्या महाराष्ट्र में नहीं तो पाकिस्तान में बोली जाएगी हनुमान चालीसा? यदि नवनीत और रवि राणा पर देशद्रोह का आरोप लगाया जाता है, तो हम सभी हनुमान चालीसा का जाप करेंगे। अगर सरकार में हिम्मत है तो हम पर देशद्रोह का आरोप लगाकर दिखाए। 

कर्नाटक: हिजाब के बाद अब सामने आया बाइबिल विवाद, हिंदू संगठनों ने जताया विरोध, जानें क्या है पूरा मसला

उन्होंने कहा कि मैं राकांपा कार्यकर्ताओं से अनुरोध करता हूं कि मेरे आवास के सामने मेरे साथ हनुमान चालीसा का पाठ करें। हम हमेशा हनुमान चालीसा का पाठ करते रहेंगे। हम देखना चाहते हैं कि क्या यह सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन करती है, नहीं तो हम अपनी रणनीति बनाएंगे।
हिटलरशाही से संघर्ष होता है, संवाद नहीं
लाउडस्पीकर पर सर्वदलीय बैठक के बहिष्कार पर फडणवीस ने कहा, हमारा मानना है कि हिटलरशाही से संघर्ष होता है, संवाद नहीं। अगर इस प्रकार की प्रवृत्ति यहां पर चलेगी तो हम भी उसका मुकाबला करेंगे। हम गृह मंत्री की बैठक में जाकर क्या करेंगे क्योंकि उस बैठक में मुख्यमंत्री तो उपस्थित ही नहीं हैं। 
आज महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने जो बैठक बुलाई थी हमने उसका ​बहिष्कार करने का फैसला किया क्योंकि पिछले 3-4 दिनों में जिस प्रकार से पुलिस का उपयोग करते हुए विरोधी पार्टी के लोगों को जान से मारने का प्रयास किया गया उसके बाद संवाद के लिए जगह कहां बचती है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + 2 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।