महाराष्ट्र : दोनों सदनों में ससुर -दामाद ही पीठासीन, ससुर विधानपरिषद के चैयरमैन व दामाद बनें विधानसभा अध्यक्ष

महाराष्ट्र के सियासी तख्तापलट के बाद विधानसभा का दो दिवसीय सत्र शुरू किया जा रहा हैं। विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में बीजेपी व एकनाथ शिंदे गुट की तरफ से पहली बार विधायक बने राहुल नार्वेकर को मैदान में उतारा, अघाडी गठबंधन की ओर से शिवसेना नेता व विधानसभा अध्यक्ष प्रत्याशी राजन साल्वी को अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार घोषित किया गया।

महाराष्ट्र के सियासी तख्तापलट के बाद विधानसभा का दो दिवसीय सत्र शुरू किया जा रहा हैं। विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में बीजेपी व  एकनाथ शिंदे गुट की तरफ से पहली बार विधायक बने राहुल नार्वेकर को मैदान में उतारा, अघाडी गठबंधन की ओर से शिवसेना नेता व विधानसभा अध्यक्ष  प्रत्याशी राजन साल्वी को अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार घोषित किया गया।  
एकनाथ शिंदे गुट व बीजेपी के सयुंक्त प्रत्याशी ने दी शिवसेना प्रत्याशी को जोरदार पटखनी 
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता राहुल नार्वेकर को रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा का अध्यक्ष चुन लिया गया।नार्वेकर को 164 मत मिले, जबकि उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना के प्रत्याशी राजन साल्वी को 107 वोट हासिल हुए। महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र रविवार पूर्वाह्न 11 बजे शुरू हुआ। एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली सरकार को सोमवार को 288 सदस्यीय विधानसभा में विश्वास मत का सामना करना होगा। 
 राहुल नार्वेकर का सियासी सफर , लोकसभा चुनाव में खा चुके हैं पटखनी 
1656836511 c
45 वर्षीय राहुल नार्वेकर मुंबई के कोलाबा निर्वाचन क्षेत्र से विधानसभा के लिए चुने गए। वह अपने सियासी सफर में शिवसेना व राष्ट्रवादी कांग्रेस में रहे।  नार्वेकर वरिष्ठ एनसीपी नेता रामराजे नाइक-निंबालकर के दामाद हैं, जो महाराष्ट्र विधान परिषद के अध्यक्ष भी हैं। 2014 में पार्टी छोड़ने से पहले वह शिवसेना की यूथ विंग के प्रवक्ता थे। शिवसेना में अपने कार्यकाल के बाद, वह शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में चले गए। राहुल नार्वेकर 2014 के लोकसभा चुनाव में मावल से असफल रहे थे। उस समय वह शिवसेना के श्रीरंग अप्पा बार्ने से बुरी तरह से हार गए थे। नार्वेकर 2019 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो गए। उन्होंने कांग्रेस के अशोक जगताप को हराकर कोलाबा से विधानसभा चुनाव जीता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।