श्रद्धा वालकर की हत्या के बाद महाराष्ट्र सरकार फुल एक्शन में, लाने जा रहे हैं ‘लव जिहाद के खिलाफ कानून’

महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे सरकार अपने एलान के मुताबिक लव जेहाद के खिलाफ कानून लाने की तैयारी कर रही है

महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे सरकार अपने एलान के मुताबिक लव जेहाद के खिलाफ कानून लाने की तैयारी कर रही है। महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने बीते दिनों कहा था कि श्रद्धा वालकर की हत्या के मामले के बाद सरकार लव जेहाद के खिलाफ कानून लाएगी। फडणवीस ने श्रद्धा के पिता से मुलाकात भी की थी। फडणवीस के मुताबिक श्रद्धा वालकर की हत्या जैसी घटनाएं रोकने के लिए कानून लाया जाना है। माना जा रहा है कि महाराष्ट्र सरकार विधानसभा के मौजूदा सत्र में ही लव जेहाद संबंधी कानून ला सकती है। अभी महाराष्ट्र विधानसभा का शीतकालीन सत्र चल रहा है।
लव जिहाद की शिकार हुई हत्या
श्रद्धा वालकर महाराष्ट्र की ही मूल निवासी थी। वो आफताब पूनावाला नाम के युवक के चक्कर में आई। श्रद्धा अपने घरवालों की मर्जी के खिलाफ आफताब के साथ आकर दिल्ली में रहने लगी थी। आफताब ने यहां झगड़ा होने के बाद इस साल मई में श्रद्धा की हत्या कर दी थी। उसके बाद श्रद्धा की लाश के 35 टुकड़े कर उसने दिल्ली में महरौली के जंगल में फेंक दिए थे। बीते दिनों इस हत्याकांड का खुलासा होने के बाद महाराष्ट्र के साथ ही पूरे देश के लोग हैरान रह गए थे। श्रद्धा की एक पुरानी शिकायत भी पुलिस को दिए जाने का खुलासा हुआ था।
शिवराज सिंह चौहान ने भी लव जिहाद पर उठाया कदम 
मुंबई पुलिस को दी गई शिकायत में श्रद्धा ने लिखा था कि आफताब पूनावाला उसका कत्ल करने के बाद लाश के टुकड़े करने की धमकी देता रहता है। उसकी पिटाई भी करता है। हालांकि, कुछ कारणों से श्रद्धा वालकर ने आफताब के खिलाफ थाने में दी गई शिकायत को वापस भी ले लिया था। फिर उसकी हत्या हो गई। 
बता दें कि महाराष्ट्र से पहले मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राज्य विधानसभा से लव जेहाद के खिलाफ कानून पास कराने का एलान किया था। माना जा रहा है कि मध्यप्रदेश सरकार भी जल्दी ही कानून पास कराएगी। अन्य बीजेपी शासित राज्यों में भी लव जेहाद के खिलाफ कानून पास कराया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − seven =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।