‘BJP के पाप का खामियाजा आम लोग क्यों भुगतें’, हावड़ा हिंसा को लेकर ममता बनर्जी का बयान

बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को हावड़ा जिले के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए।

बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की मोहम्मद पैगंबर पर की गई विवादित को लेकर देश के कई हिस्सों में बवाल मचा हुआ है। इसको लेकर पश्चिम बंगाल के हावड़ा में भी बवाल हुआ था। जिले में हुई हिंसक घटनाओं को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बीजेपी की गलतियों का खामियाजा लोग क्यों भुगतें?
ममता बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘जैसा कि मैंने पहले कहा है पिछले दो दिनों में हावड़ा में हिंसक घटनाओं से सामान्य जीवन प्रभावित हुआ है। इसके पीछे कुछ राजनीतिक दल शामिल हैं जो कि दंगा भड़काना चाहते हैं, लेकिन इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बीजेपी द्वारा किए गए पाप का खामियाजा आम लोगों को क्यों भुगतना चाहिए।’’

पैगंबर मुहम्मद टिप्पणी मामला : जान से मारने की धमकी के बाद नवीन जिंदल के परिवार ने छोड़ी दिल्ली

गौरतलब है कि बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को हावड़ा जिले के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। जिले में हिंसक विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, इसके जवाब में प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया, कई पुलिस वाहनों में आग लगा दी गई और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया।
जिले में 13 जून तक इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है। 15 जून तक उलुबेरिया, डोमजूर और पंचला जैसे कई क्षेत्रों में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। प्रदर्शनकारियों द्वारा सड़क मार्ग और रेलवे मार्ग को अवरुद्ध करने से आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। हिंसा के कारण कई स्थानीय और एक्सप्रेस ट्रेनें रद्द कर दी गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।