बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की तैयारी, मनीष तिवारी बने स्टार प्रचारक

पश्चिम बंगाल में दूसरे चरण के मतदान के लिए कांग्रेस ने मनीष तिवारी का नाम स्टार प्रचारकों की सूची में डाला है। मनीष तिवारी कांग्रेस नेतृत्व को पार्टी में सुधार के लिए पत्र लिखने वालों में से एक थे। यहां तक कि जम्मू में एक सार्वजनिक बैठक को भी उन्होंने संबोधित किया था।

पश्चिम बंगाल में दूसरे चरण के मतदान के लिए कांग्रेस ने मनीष तिवारी का नाम स्टार प्रचारकों की सूची में डाला है। मनीष तिवारी कांग्रेस नेतृत्व को पार्टी में सुधार के लिए पत्र लिखने वालों में से एक थे। यहां तक कि जम्मू में एक सार्वजनिक बैठक को भी उन्होंने संबोधित किया था।
पार्टी ने स्टार प्रचारकों की जो पिछली सूची जारी की थी, उसमें जी-23 के मनीष तिवारी, आनंद शर्मा, कपिल सिब्बल और गुलाम नबी आजाद का नाम नहीं था। उस समय पार्टी ने कहा था कि स्टार प्रचारकों के नाम राज्य इकाई द्वारा मांग के अनुसार तय किए जाते हैं। सूची में जिन लोगों का नाम शामिल किया गया है उनमें सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी हैं। इसके अलावा जयवीर शेरगिल का भी नाम है।
कांग्रेस राज्य के 294 विधानसभा क्षेत्रों की 92 सीटों पर वाम मोर्चे और आईएसएफ के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है।पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव 27 मार्च से आठ चरणों में होंगे और परिणाम 2 मई को घोषित किए जाएंगे। बता दें कि कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए सोमवार को अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया और जोर दिया कि वह 1950 और 1960 के दशक में तत्कालीन मुख्यमंत्री विधान चंद्र रॉय के शासन के तहत राज्य को मिली प्रतिष्ठा को बहाल करना चाहती है। रॉय को आधुनिक बंगाल का निर्माता माना जाता है।
कांग्रेस यह विधानसभा चुनाव वाम मोर्चा और नवगटित इंडियन सेकुलर फ्रंट (आईएसएफ) के साथ गठबंधन में लड़ रही है। कांग्रेस ने घोषणा पत्र में कहा कि वह चीजों को मुफ्त में बांटने की राजनीति में यकीन नहीं करती है, बल्कि पश्चिम बंगाल का चहुंमुखी विकास सुनिश्चित करना चाहती है।

असम चुनाव के लिए BJP का घोषणापत्र जारी, नड्डा बोले- विकास के लिए 10 संकल्प के साथ आगे बढ़ेगी पार्टी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।