मिजोरम में मार्च से अब तक 29 हजार से अधिक सूअरों की हो चुकी है मौत, ‘अफ्रीकन स्वाइन फीवर’ बिमारी बनी वजह

देश के उत्तर पूर्व राज्य मिजोरम में एक इस वर्ष 29,803 सूअरों की मौत हो चुकी है

देश के उत्तर पूर्व राज्य मिजोरम में एक इस वर्ष 29,803 सूअरों की मौत हो चुकी है। राज्य के पशुपालन एवं पशु रोग विज्ञान मंत्री डॉ के बेचुआ ने शुक्रवार को बताया कि, इस साल मार्च की शुरुआत से लेकर अब तक राज्य में ‘अफ्रीकन स्वाइन फीवर’ (एएसफ) की वजह से  29,803 सूअरों की मौत हो चुकी है। मिजो नेशनल फ्रंट की एक बैठक को संबोधित करते हुए मंत्री ने कहा कि, अब तक ‘एएसएफ’ से संक्रमित होने के संदेह में कम से कम 10,380 सूअरों को मार दिया गया है।
राज्य के 272 गांव हो चुके हैं प्रभावित
1638600208 surar pig
पशुपालन मंत्री ने कहा कि, 21 मार्च से अब तक आठ महीने में एएसफ से 29,803 सूअरों की मौत की पुष्टि हो चुकी है और 522 सूअर के एएसफ से मरने का संदेह है। उन्होंने कहा कि, वर्तमान में राज्य के 11 जिलों में कम से कम 272 गांव ‘एएसफ’ से प्रभावित हैं। उन्होंने कहा कि, सरकार इस महामारी से मुकाबला करने का प्रयास कर रही है। मिजोरम से राज्यसभा सदस्य के. वनललवेना ने शुक्रवार को कहा कि, उन सूअर पालने वालों को केंद्र सरकार से मुआवजा मिलना चाहिए जिनके सूअर ‘एएसफ’ से मरे हैं। सांसद ने कहा कि, ‘एएसफ’ से लगभग आठ हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 5 =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।