नक्सलियों ने रोड रोलर में लगाई आग, गढ़चिरौली मुठभेड़ के खिलाफ 10 दिसंबर को किया बंद का ऐलान

बालाघाट जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि बिरसा थाना अंतर्गत मछुरदा चौकी के कोरका गांव के पास देवरबेली रोड में 18 से 20 नक्सलियों ने शुक्रवार-शनिवार रात करीब 12 बजे सड़क निर्माण में लगे एक रोड रोलर को आग के हवाले कर दिया।

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में पिछले महीने पुलिस के साथ मुठभेड़ में अपने सहयोगियों के मारे जाने के विरोध में नक्सलियों ने मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले में निर्माण कार्य में लगे एक रोड रोलर को आग के हवाले कर दिया और 10 दिसंबर को तीन राज्यों मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में बंद रखने का ऐलान किया है। यह जानकारी पुलिस ने रविवार को दी है। यह घटना बालाघाट जिले के कोरका गांव के पास शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात को हुई।
नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे वाहन में आग लगाई 
बालाघाट जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि बिरसा थाना अंतर्गत मछुरदा चौकी के कोरका गांव के पास देवरबेली रोड में 18 से 20 नक्सलियों ने शुक्रवार-शनिवार रात करीब 12 बजे सड़क निर्माण में लगे एक रोड रोलर को आग के हवाले कर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘अपने साथियों की मौत से बौखलाए नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे वाहन में आग लगाई है।’’
 10 दिसंबर को छत्तीसगढ़ सहित महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश में बंद रखने का ऐलान किया
तिवारी ने बताया, ‘‘मौके से कुछ पर्चे भी मिले हैं, जिसमें 10 दिसंबर को छत्तीसगढ़ सहित महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश बंद रखने का जिक्र है।’’ बालाघाट जिले के बैहर इलाके के अनुविभागीय पुलिस अधिकारी (एसडीओपी) आदित्य प्रताप मिश्रा ने बताया कि घटनास्थल के पास नक्सलियों ने लाल रंग के बैनर के साथ कुछ पर्चे भी छोड़े हैं, जिसमें अपने साथियों की मौत के विरोध में महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ़ में बंद रखने के साथ सरकारी कार्य नहीं करने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने इलाके में तलाश तेज कर दी है और इसके लिए 12 पुलिस पार्टियां तैनात की गई हैं।
मिश्रा ने बताया कि घटनास्थल के पास नक्सलियों ने रस्सी की मदद से लाल रंग का बैनर बांधा है, जिसमें पिन से सात पर्चे लगाए गए हैं। ये पर्चे मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ जोनल कमेटी और मलाजखंड एरिया कमेटी के हैं। उन्होंने कहा कि इस पर्चे में पिछले माह 13 नवंबर को महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले के कोरची तहसील अंतर्गत ग्राम बोटेझरी व मरदीनटोला के पास हुई मुठभेड़ में नक्सल नेता मिलिंद तेलतुंबड़े (57) सहित 26 नक्सलियों के मारे जाने का उल्लेख है और इसके विरोध में 10 दिसंबर को महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य को बंद रखने का ऐलान किया गया है।
राज्य सरकार ने लिया ये निर्णय 
इसी बीच, मध्य प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (गृह) डॉ. राजेश राजौरा ने बताया कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि प्रदेश के नक्सल प्रभावित तीनों जिले बालाघाट, मंडला और डिंडोरी को एक दिसंबर से अब बालाघाट जोन में कर दिया गया है और इनका मुख्यालय बालाघाट ही दिया गया है। उन्होंने कहा कि पहले डिंडोरी जिला शहडोल जोन में था। राजौरा ने बताया कि अब प्रदेश के तीनों नक्सल प्रभावित जिले एक ही पुलिस महानिरीक्षक के पास रहने से नक्सल विरोधी अभियान बेहतर संचालित किया जाना संभव हो सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × three =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।