असम चुनाव के लिए BJP का घोषणापत्र जारी, नड्डा बोले- विकास के लिए 10 संकल्प के साथ आगे बढ़ेगी पार्टी

घोषणापत्र जारी करते हुए नड्डा ने कहा कि हमने अपने आपको बढ़ाने के लिए आपके सामने 10 संकल्प रखने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि पहला-मिशन ब्रह्मपुत्र। बाढ़ जो यहां की समस्या बनी हुई है उसे नए-नए तरीके से रोकने का प्रयास किया जाएगा।

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने आज यानी मंगलवार को आगामी असम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी का घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस दौरान केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, असम के सीएम सर्बानंद सोनोवाल और राज्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा भी मौजूद रहे। घोषणापत्र जारी करते हुए नड्डा ने कहा कि हमने अपने आपको बढ़ाने के लिए आपके सामने 10 संकल्प रखने का फैसला किया है।
उन्होंने कहा कि पहला-मिशन ब्रह्मपुत्र। बाढ़ जो यहां की समस्या बनी हुई है उसे नए-नए तरीके से रोकने का प्रयास किया जाएगा ताकि हम बाढ़ की त्रासदी से असम की जनता को बचा सकें और वो विकास की नई कहानी लिख सकें। उन्होंने कहा कि पांच साल पहले असम में कई चुनौतियां थीं जिनका सामना एनडीए की सरकार ने किया है। हमने साथ मिलकर असम को विकास की ओर अग्रसर किया है।
नड्डा ने कहा कि पिछले 5 वर्षों में हमारा उद्देश्य जाति, माटी और बेटी को सशक्त करना रहा है। संस्कृति की रक्षा, असम की सुरक्षा और समृद्धि के लिए हम प्रतिबद्ध रहे हैं और इसे लेकर हम चले हैं। हमने विकास की गति प्राप्त की है। हम एक बड़ी छलांग के लिए खड़े हैं। इन आकांक्षाओं के साथ, हमने असम के लोगों के लिए 10 वचन लिए हैं।
बीजेपी के 10 बड़े वादे-
  • मिशन ब्रह्मपुत्र के मुताबिक बाढ़ की समस्या को रोकने का प्रयास किया जाएगा, ताकि असम की जनता को इससे मुश्किल ना हो।
  • 30 लाख परिवारों को अरुणोदय योजना के तहत हर महीने 3 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।
  • सभी नामघरों को ढाई लाख रुपये की सहायता दी जाएगी और अवैध निर्माण को हटाया जाएगा।
  • सरकारी स्कूलों में सभी बच्चों के लिए मुफ्त में शिक्षा और छात्राओं को आठवीं क्लास के बाद साइकिल दी जाएगी।
  • असम में एनआरसी को लागू करेंगे, सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों को पालन करेंगे और घुसपैठियों की पहचान की जाएगी।
  • अगले वादे के मुताबिक असम में परिसीमन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा।
  • बीजेपी के घोषणापत्र के अनुसार आत्मनिर्भर असम के लिए अभियान चलाया जाएगा।असम में हर क्षेत्रों को मदद दी जाएगी और उन्हें बढ़ावा दिया जाएगा।
  • असम को सबसे तेज जॉब क्रिएयर राज्य के तौर पर स्थापित करेंगे और  2 लाख लोगों को सरकारी क्षेत्र में नौकरी देंगे। वहीं 30 मार्च 2022 तक एक लाख लोगों को नौकरी दे देंगे। निजी क्षेत्र में भी 8 लाख नौकरियों का वादा किया गया है।
  • अगले वादे के अनुसार स्वामी विवेकानंद के नाम से योजना चलाई जाएगी, जिसमें स्टार्टअप करने वालों को बढ़ावा दिया जाएगा। इसकी मदद से दस लाख युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य है ।
  • अंतिम वादे के अनुसार सभी को जमीन की मल्कियत का हक दिया जाएगा ताकि असम के लोगों को मजबूत किया जा सके।

पीएम मोदी ने की तमिलनाडु चुनाव के लिए भाजपा के घोषणा पत्र की सराहना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − ten =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।