शिवराज सरकार मिश्रा पर दर्ज मामलों को वापस लेकर प्रकरण की संपूर्ण जांच कराए : कमलनाथ

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने आज पार्टी के नेता के के मिश्रा पर दर्ज मामले वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि सरकार इन मामलों को वापस लेकर प्रकरण की संपूर्ण जांच कराए।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने आज पार्टी के नेता के के मिश्रा पर दर्ज मामले वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि सरकार इन मामलों को वापस लेकर प्रकरण की संपूर्ण जांच कराए।
श्री कमलनाथ ने अपने ट्वीट में आरोप लगाया कि राज्य सरकार व्यापम- भाग दो घोटाले की ओर बढ़ रही है। कांग्रेस नेता के के मिश्रा ने मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी पर गंभीर सवाल उठाए थे। अधिकारी पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। चोरी और सीनाजोरी करते हुए के के मिश्रा के खिलाफ उल्टी रिपोर्ट कर दी गई।
इसके बाद उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को तत्काल के के मिश्रा के ऊपर लगाए गए झूठे मामले वापस लेने चाहिए और दोषी अधिकारी को निलंबित कर मामले की पूरी जांच करानी चाहिए। उन्होंने सरकार को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने व्यापम का नाम बदल दिया, लेकिन उसमें घोटाले का काम अभी जारी है। उन्होंने सवाल किया कि मध्यप्रदेश को‘घोटाला मुक्त प्रदेश’कब बनाया जाएगा।

<

div style=”text-align: justify;”>मध्यप्रदेश के एक अधिकारी की शिकायत पर कल यहां विशेष थाना (अजा,अजजा) में प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री श्री मिश्रा के खिलाफ अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

इस संबंध में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार मुख्यमंत्री कार्यालय में पदस्थ एक अधिकारी (उप सचिव) लक्ष्मण सिंह मरकाम की शिकायत पर के के मिश्रा और एक अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। इसमें आरोप लगाया गया है कि मिश्रा ने उनकी छवि धूमिल करने के उद्देश्य से शिक्षक वर्ग तीन की प्रवेश परीक्षा से संबंधित कूटरचित स्क्रीनशॉट तैयार करवाए और इन्हें सोशल मीडिया पर सार्वजनिक कर दिया।
शिकायत के अनुसार उनके मोबाइल फोन से इस संबंध में कोई भी जानकारी या स्क्रीन शॉट नहीं भेजी गयी है। आरोपियों ने कूटरचित स्क्रीनशॉट तैयार करवाए हैं। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पूरी जांच होना चाहिए। पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर मामला जांच में ले लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।