कर्नाटक में हुए पीएआई घोटाले को लेकर सुरजेवाला ने राज्य सरकार को घेरा,इस मुद्दे को दबाने के लगाए आरोप

कांग्रेस ने बुधवार को आरोप लगाया कि कर्नाटक की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने पुलिस उप निरीक्षक पीएआई की भर्ती से जुड़े घोटाले पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है

कांग्रेस ने बुधवार को आरोप लगाया  कि कर्नाटक की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने पुलिस उप निरीक्षक पीएआई की भर्ती से जुड़े घोटाले पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है, जबकि इस मामले की अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक रैंक का एक अधिकारी गिरफ्तार हो चुका है।इस मामले को खत्म करने को लेकर जांच अधिकारी के ऊपर घूस मांगने के आरोप भी लगाए गए  है। 
पार्टी महासचिव ने लगाए गंभीर आरोप
पार्टी महासचिव और कर्नाटक प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया कि इस मामले के मुख्य आरोपी आर डी पाटिल ने लोकायुक्त को पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि घोटाले के जांच अधिकारी ने मामले को बंद करने की एवज में तीन करोड़ रुपये की घूस मांगी। उसने आरोप लगाया कि इस राशि (तीन करोड़ में से) 76 लाख रुपये का भुगतान भी हो चुका है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक के गृह मंत्री ए. जनेंद्र का इस्तीफा होना चाहिए और कर्नाटक उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश द्वारा पूरे मामले की जांच कराई जानी चाहिए।
पीएसआई घोटाले का मामला क्या है?
 सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, आरडी पाटिल द्वारा लिखे गए पत्र में स्पष्ट रूप से आरोप लगाया गया है कि जांच अधिकारी ने तीन करोड़ रुपये की रिश्वत मांगी और 76 लाख रुपये की रिश्वत उस अधिकारी को दी भी गई। यह रिश्वत मामले को बंद करने की एवज में मांगी गई थी।  उन्होंने एक प़त्र का हवाला देते हुए दावा किया कि 76 लाख रुपये के भुगतान के बाद पीएसआई घोटाले से जुड़े मामले को बंद करने के लिए 2.24 करोड़ रुपये की मांग की गई। 
इस मामले में राज्य सरकार ने क्या दी प्रतिक्रिया?
कांग्रेस नेता ने सवाल किया, मुख्यमंत्री बोम्मई और गृह मंत्री जनेंद्र की नाक के नीचे क्या हो रहा है? सुरजेवाला ने कहा, मुख्यमंत्री और गृह मंत्री ने पहले घोटाला होने की बात से ही इनकार किया। फिर मामले की जांच नहीं कराई। राज्यव्यापी प्रदर्शन के बाद जांच हुई और करीब 100 लोग गिरफ्तार हुए। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार पूरे मामले पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × one =

पंजाब केसरी एक हिंदी भाषा का समाचार पत्र है जो भारत में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और दिल्ली के कई केंद्रों से प्रकाशित होता है।